रफ्तार ने छीनी 3 दोस्तों की जिंदगी, विरोध में बवाल:पटना में ड्राइविंग सीख रहे थे पांचों, हाइवे पर टर्न वक्त लेते कार अनियंत्रित हुई तो टैंकर ने मारी टक्कर; 2 की हालत गंभीर

 

घटना के बाद क्षतिग्रस्त कार। - Dainik Bhaskar

घटना के बाद क्षतिग्रस्त कार।

पटना में सड़क हादसे में 3 दोस्तों की मौत हो गई, जबकि 2 दोस्तों की हालत गंभीर है। घटना फुलवारीशरीफ के मौर्य विहार मोड़ के पास हुई। सोमवार शाम पांचों दोस्त हाइवे पर ऑल्टो कार चलाना सीख रहे थे। मौर्य विहार के पास टर्न लेते समय सामने तेज रफ्तार टैंकर ने टक्कर मार दी। टक्कर इतनी तेज थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया। आसपास के लोगों की भीड़ लग गई।

आननफानन में स्थानीय लोगों ने पांचों लड़कों को कार से बाहर निकालकर अस्पताल में भर्ती करवाया। यहां डॉक्टरों 3 लड़कों को मृत घोषित कर दिया, जबकि 2 गंभीर हालत में बेहतर इलाज के लिए हायर सेंटर रेफर दिया। घटना से आक्रोशित लोगों ने पटना-खगौल हाइवे को जाम कर प्रदर्शन शुरू कर दिया है। गुस्साए लोगों का कहना है कि पुलिस टैंकर ड्राइवर को जल्द से जल्द गिरफ्तार करे और पीड़ित परिवार को मुआवजा प्रदान करे।

ड्राइविंग सीख रहे थे लड़के

इधर, हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और लोगों को समझा-बुझाकर शांत करवाया। पुलिस के अनुसार जांच के दौरान यह बात सामने आई है कि लड़के कार चलाना सीख रहे थे। कार टर्न लेते वक्त अनियंत्रित हो गई और सामने से आ रहे तेज रफ्तार टैंकर ने टक्कर मार दी। पीड़ित परिवार को मुआवजे का आश्वासन दिया गया है। टैंकर चालक की गिरफ्तारी के छापेमारी के चल रही है। मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है।

पांचों दोस्त की उम्र 17 से 19 साल

परिजनों का कहना है कि फुलवारीशरीफ के FCI रोड निवासी सुहैल अख्तर अपनी ऑल्टो कार से अन्य 4 दोस्तों को लेकर ड्राइविंग सीख रहा था। मौर्य विहार मोड़ के पास उनकी गाड़ी अनियंत्रित हो गई, तभी सामने से आ रही टैंकर ने टक्कर मार दी। घटना के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। स्थानीय लोगों का कहना है कि पांच लड़के 17 से 20 वर्ष के थे।

सड़क हादसे में इन 3 दोस्तों की जान गई

  • सुहैल अख्तर (18) पिता शकील रहमान निवासी FCI कॉलोनी, फुलवारीशरीफ
  • रोहित कुमार (18) पिता गोपाल प्रसाद निवासी चौधरी टोला, फुलवारीशरीफ
  • प्रतीक रतन (19) पिता लाल रतन, चौधरी टोला, फुलवारीशरीफ

ये दोनों मौत से जंग लड़ रहे हैं

  • हर्ष कुमार (18) पिता देवेंद्र कुमार बिरला कॉलोनी, फुलवारीशरीफ
  • आयांश कुमार (17) पिता अमरदीप घर बेउर कॉलोनी

 

खबरें और भी हैं…
NEWS KABILA

Check Also

पटना में 2318 मौत, 693 को राहत का चेक:कोरोना से मरने वालों के आश्रिताें को 4 लाख की राशि देने में हो रही देरी, राजधानी में अब तक 27 करोड़ का भुगतान

  रविवार को भी पटना सदर के 50 आश्रितों को चेक सौंपा गया है। पटना …