ये प्रधान की नहीं कोरोना की ताजपोशी है!:सुजानपुर कौंसिल की प्रधान अनुराधा बाली और उपप्रधान सुरेंद्र मन्हास ने संभाला चार्ज

 

सुजानपुर कौंसिल की प्रधान बनने के बाद बुधवार को अनुराधा बाली औ उप प्रधान सुरेंद्र मन्हास ने चार्ज संभाला। यहां अनुराधा और सुरेंद्र मन्हास सहित 18 पार्षद और अन्य लोग मौजूद थे। किसी के मुंह पर मास्क तक नहीं था। - Dainik Bhaskar

सुजानपुर कौंसिल की प्रधान बनने के बाद बुधवार को अनुराधा बाली औ उप प्रधान सुरेंद्र मन्हास ने चार्ज संभाला। यहां अनुराधा और सुरेंद्र मन्हास सहित 18 पार्षद और अन्य लोग मौजूद थे। किसी के मुंह पर मास्क तक नहीं था।

  • मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग भूले, जबकि रोज जान ले रहा कोरोना

सुजानपुर नगर कौंसिल की प्रधान बनने के बाद अनुराधा बाली और उपप्रधान सुरेंद्र मन्हास ने बुधवार को अपना चार्ज संभाल लिया। वहीं चार्ज संभालने के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग से लेकर मास्क पहनने के बाद उससे मुंह कवर करना प्रधान से लेकर किसी भी पार्षद और अधिकारी ने जरूरी नहीं समझा।

इस मौके पर कांग्रेस से ही प्रधानगी की दावेदार रही बबली महाजन और भाजपा पार्षद राज कुमार गुप्ता नहीं आए। दूसरी तरफ भाजपा में मान मनाैवल का दौर जारी है। सुजानपुर से भाजपा विधायक दिनेश सिंह बब्बू के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले 5 बार के पार्षद राज कुमार के पार्टी छोड़ने के बाद उन्हें मनाने के लिए पंजाब प्रधान अश्वनी शर्मा पहुंचे और दो घंटे तक उन्हें मनाने की कोशिशें करते रहे।

अनुराधा तथा सुरेंद्र मन्हास ने कहा कि सभी वार्डों में बिना भेदभाव के विकास कार्य किए जाएंगे। उन्होंने कहा किस सभी वार्डों में खुद दौरा करके पार्षदों को साथ लेकर विकास की रूपरेखा तैयार की जाएगी।

इस मौके पर पार्षद महिंद्र बाली, पुष्पा देवी, लक्ष्मी वर्मा, सरोज बाला, अश्विनी कुमार बंटी, द्वारका नाथ, नीतू मनास, अशोक बाबा, डॉ अविनाश डोगरा, रमेश कुमार, रितु वाला व गीता शर्मा, अजय अंश महाजन, एडवोकेट विक्रांत महाजन, राजेश कुमार राजू, ललित वर्मा, सुरेंद्र शर्मा, अश्वनी शर्मा, ईओ विजय सागर मेहता, सुपरिंटेंडेंट सुमन कुमार मौजूद थे।

जिलाध्यक्ष से मांगी गई है रिपोर्ट: अश्वनी

नगर कौंसिल अध्यक्ष पद के चुनाव के समय पार्टी का व्हिप ना खोले जाने पर विधायक दिनेश सिंह बब्बू के खिलाफ मोर्चा खोल पार्टी छोड़ने वाले 5 बार के पार्षद राजकुमार गुप्ता को मनाने के लिए बुधवार को खुद पंजाब अध्यक्ष अश्विनी शर्मा उनके घर पहुंचे और दो घंटे उनसे बात की।

उन्होंने कहा कि कौंसिल प्रधान पद के चुनाव के लिए भाजपा ने व्हिप जारी किया था तथा जिलाध्यक्ष ने विधायक बब्बू की ड्यूटी व्हिप को पढ़ने के लिए लगाई थी। पार्टी व्हिप नहीं पढ़ने को लेकर जांच कर जिला अध्यक्ष से रिपोर्ट मांगी गई है। रिपोर्ट मिलने के बाद इस पर मंथन किया जाएगा।

 

खबरें और भी हैं…
NEWS KABILA

Check Also

जमीन के लिए बहाया खून, VIDEO:निवाड़ी में जमीन विवाद पर दो गुट भिड़े; एक-दूसरे पर पत्थर और लाठियां बरसाईं, 6 घायल

मध्य प्रदेश के निवाड़ी जिले में जमीन के लिए दो पक्षों ने एक-दूसरे का खून …