म्यांमार के जुनता नेताओं पर कार्रवाई जारी, अमेरिका ने वायुसेना प्रमुख समेत दो लोगों पर लगाए प्रतिबंध

म्यांमार (Myanmar) में हुए सैन्य तख्तापलट (Military Coup) के बाद से दुनियाभर की निगाहें इस पर बनी हुई हैं. अमेरिका (America) ने तख्तापलट के बाद म्यांमार की सेना (Myanmar’s Army) को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी है. इसी कड़ी में अमेरिका ने दो और जुनता नेताओं पर प्रतिबंध लगा दिए हैं. साथ ही चेतावनी दी है कि आगे और भी कड़े कदम उठाए जाएंगे. दूसरी ओर, हजारों लोग सोमवार को एक बार फिर सड़कों पर उतरे और लोकतंत्र बहाली के लिए प्रदर्शन किए. बता दें कि देश पर बलपूर्वक शासन करने वाले लोगों को जुनता कहा जाता है. वर्तमान में म्यांमार की सेना ने बलपूर्वक सैन्य तख्तापलट किया है और देश पर शासन चला रही है.

अमेरिका (America) ने कहा कि इसने म्यांमार में नए सत्तारूढ़ राज्य प्रशासनिक काउंसिल के दो सदस्यों को अमेरिकी संपत्ति में आने से ब्लॉक कर दिया है. इन लोगों को अमेरिका में प्रवेश भी नहीं दिया जाएगा. जिन दो लोगों पर प्रतिबंध लगाया गया है, उसमें वायुसेना प्रमुख जनरल माउंग माउंग क्यॉ (General Maung Maung Kyaw) और लेफ्टिनेंट जनरल मो मइंट तुन (Lieutenant General Moe Myint Tun) शामिल हैं.

कार्रवाई करने से नहीं हिचकिचाएंगे: एंटोनी ब्लिंकन

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटोनी ब्लिंकन (Antony Blinken) ने कहा कि हम हिंसा करने वाले और लोगों की इच्छा को दबाने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने से नहीं हिचकिचाएंगे. हम बर्मा (म्यांमार) के लोगों को समर्थन देते रहेंगे. उन्होंने कहा, हम पुलिस और सेना को शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों पर सभी हमलों को रोकने का आदेश देते हैं. हिरासत में लिए गए सभी लोगों को तुरंत रिहा किया जाए. पत्रकारों और कार्यकर्ताओं को डराना बंद किया जाए. साथ ही लोकतांत्रिक रूप से चुनी गई सरकार को बहाल किया जाए.

एक फरवरी को हुआ था तख्तापलट

ये ऐलान ऐसे समय पर किया गया है, जब यूरोपीय यूनियन (European Union) ने भी म्यांमार की सेना पर प्रतिबंध को मंजूरी दी है. एक फरवरी को हुए सैन्य तख्तापलट के बाद से लगातार म्यांमार पर अंतरराष्ट्रीय दबाव बनाया जा रहा है. गौरतलब है कि सेना ने तख्तापलट करने के बाद स्टेट काउंसलर आंग सान सू की (Aung San Suu Kyi) को गिरफ्तार कर लिया था. दूसरी ओर जुनता ने कहा है कि वह प्रदर्शनों को कुचलने के लिए बल का प्रयोग करना जारी रखेगा. अमेरिका ने पहले ही देश के नए शासक जनरल मिन आंग ह्लाइंग पर प्रतिबंध लागू किए हुए हैं.

Check Also

8 लोगों को फ्री में चांद की सैर कराएगा जापान के अरबपति बिजनेसमैन युसाकू मेजावा

टोक्यो : जापान के अरबपति साल 2023 में चांद की यात्रा पर निकल रहे हैं। …