मौसम में बदलाव के साथ ही दिल्ली में प्रदूषण बढ़ा, जानें कैसी है राजधानी की हवा?

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में गुलाबी ठंड के दस्तक के साथ हवाओं में प्रदूषण भी बढ़ने लगा है. एजेंसी सफर के मुताबिक आज एक्यूआई ‘मध्यम’ श्रेणी में पहुंच सकता है. दिल्ली में आज सुबह हवा में PM 2.5 AQI 283 और PM 10 – 370 रहे.

 

दिल्ली की एयर क्वालिटी रविवार सुबह ‘खराब’ श्रेणी में रही जहांगीरपुरी का सूचकांक 283 रहा, जहां पूरी दिल्ली में प्रदूषण का स्तर सबसे ज्यादा रहा है. पश्चिम दिल्ली के मुंडका में एक्यूआई सबसे खराब 286 रिकार्ड किया गया. दिल्ली के पड़ोसी शहरों गाजियाबाद, फरीदाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, मेरठ और गुरुग्राम में भी हवा की गुणवत्ता खराब आंकी गई. गाजियाबाद में इनसब जगहों में सबसे खराब वायु गुणवत्ता दर्ज की गई.

 

सफर के मुताबिक पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में पराली जलाये जाने वजह से रविवार को दिल्ली की हवा में प्रदूषण बढ़ा .हालांकि अब हवा का रुख बदलकर पूर्व की ओर होगा और इससे पराली जलाये जाने का प्रभाव कम हो जाएगा. जिससे दिल्ली एनसीआर की हवा में थोड़ा सुधार होगा . वहीं दिल्ली में सभी इलेक्ट्रिक वाहनों को रोड टैक्स से छूट मिल चुकी है.

 

पराली जलाने की वजह से, दिल्ली-एनसीआर में हर साल जाड़े के मौसम में प्रदूषण उच्च स्तर पर पहुंच जाता है. वहीं निचले वायुमंडल में ओस की बूंदें जब इस प्रदूषण के साथ मिल जाती है तो जहरीली हवा की एक मोटी चादर बिछ जाती है, जिससे शहर के लोगों के स्वास्थ्य के लिए खतरनाक स्थिति पैदा हो जाती है.

 

0 से 50 तक के AQI को ‘अच्छा’,श्रेणी में रखा जाता है . 51 से 100 को ‘सामान्य’ श्रेणी में 101 से 200 को ‘मध्यम’,  201 से 300 को ‘खराब’, 301 से 400 को ‘बहुत खराब’ और 401 से 500 को ‘गंभीर’ माना जाता है.

Check Also

जीतू पटवारी के सवाल- क्या कमलनाथ की हत्या की साजिश रच रही भाजपा? क्या झांसी की रानी की मौत के लिए माफ़ी मांगेंगे सिंधिया?

जीतू ने कांग्रेस उम्मीदवार उत्तम पाल सिंह के पक्ष में जनसभा को सं‍बोधित किया। पटवारी …