मैट्रीमोनियल से ठगी:2 लाख पौंड ले इंडिया आया तो पकड़ा गया हूं, छुड़ाने के नाम पर 20 लाख ठगे

 

  • एनआरआई बता लुधियाना की युवती से चलाई शादी की बात
  • शादी के बाद बर्मिंघम ले जाने का दिखाया था सपना

नौसरबाज ने जीवनसाथी डॉट काम के जरिए बर्मिंघम का एनआरआई बता लड़की से शादी की बात चलाई। इसके बाद कुछ दिन बात चली। एक दिन सरप्राइस देने इंडिया आते समय 2 लाख पौंड के साथ पकड़े जाने की बात कह छुड़ाने के नाम पर नौसरबाज ने 20.37 लाख की ठगी मार ली।

थाना मॉडल टाउन की पुलिस ने न्यू संत फतेह सिंह नगर की हीना ढींगरा की शिकायत पर दिल्ली वेस्ट के हरमन खाबंग लाल, नोएडा के माया धम चकमा, सत्ता, चमीरूदीन, मजीना, जतिनपुर बबली, मुकेश, मुंबई का राजेंद्र दत्ताराम दनवड़े और महाराष्ट्र का राणा वासूदेव के खिलाफ केस दर्ज किया है।

एएसआई अवनीत कौर ने बताया कि हीना ढींगरा (33) ने जीवनसाथी डॉट काम पर आईडी बनाई थी। वहां पर उसने आरोपी की आईडी व एड देखी। फिर दोनों में बातचीत हुई। आरोपी ने उससे शादी की बात कही। इसके बाद बातें होने लगीं। फिर कई बार में 20.37 लाख रुपए ठग लिए। वहीं, ऑनलाइन वेबसाइटों और सोशल मीडिया के जरिए एक साल में लुधियाना में ऐसे ठगी के 15 मामले दर्ज हैं।

महिला को शक न हो इसलिए- विदेशी नंबर से ही करता था कॉल

जांच अफसर ने बताया कि आरोपी शिकायतकर्ता को यूके का एनआरआई बताता था। उसका कहना था कि उसके पास यूके की पीआर है और वहां पर उसका बड़ा बिजनेस है। जिसके चलते उसे पैसे की कमी नहीं है। वह शिकायतकर्ता को हर खुशी व अच्छी जिंदगी देने का झांसा देता था। जबकि नौसरबाज शिकायतकर्ता को यकीन दिलाने के लिए विदेशी नंबरों से कॉल करता था। जिससे उसे लगता था कि वह सच में यूके से कॉल कर रहा है। हालाकि बाद में पता चला कि आरोपियों द्वारा इंडिया में ही विदेशी सिम इस्तेमाल की जा रही थी।

कस्टम विभाग के पकड़ने की गढ़ी झूठी कहानी, इसके बाद मारी लाखों की ठगी

युवती ने शिकायत दी कि 22 दिसंबर 2020 को आरोपी ने कहा कि वह उसे मिलने के लिए इंडिया आ गया है और उसे सरप्राइज देगा। उसी दिन उसे तीन अलग-अलग नंबरों से फोन आया। आगे से व्यक्ति ने खुद को एयरपोर्ट विभाग का अफसर बताया। कहा कि आरोपी भारी मात्रा में पौंड लेकर आया है।

इसके चलते उसे पौंड कैश कराने के लिए दो लाख रुपए की मांग की। फिर आरोपी ने उससे बात की और कहा कि दो लाख पौंड लेकर आया था। लेकिन कस्टम विभाग ने उसे पकड़ लिया है और उसे 1.25 लाख रुपए की जरूरत होने की बात बोली। शिकायतकर्ता ने एकदम घबराकर किसी बालवाहिनी के अकाउंट में 1.25 लाख रुपए डाल दिए। इसी तरह करके आरोपियों ने फिर एयरपोर्ट व कस्टम विभाग का नाम लेकर कभी पौंड का पार्सल कराने तो कभी टैक्स भरने की बात कह शिकायतकर्ता से 20.37 लाख रुपए लेकर ठगी मार ली।

 

Check Also

खुदकुशी या हादसा:जालंधर में बंद कमरे में युवक की जिंदा जलकर मौत, शराब पीने का आदी युवक ज्वेलर के पास करता था नौकरी

  कमरे में झुलसकर दम तोड़ने वाला युवक संजीत। सुबह फोन नहीं लगा तो मालिक …