मेवात में मुठभेड़:हरियाणा पुलिस ने पकड़ा दिल्ली पुलिस का 50 हजार का इनामी बदमाश, तीन साथी भी धरे

 

मेवात में हरियाणा पुलिस की गिरफ्त में जिले के गांव खोरी निवासी जावेद उर्फ जाबिद। इस पर दिल्ली पुलिस ने 50 हजार का इनाम रखा हुआ है। - Dainik Bhaskar

मेवात में हरियाणा पुलिस की गिरफ्त में जिले के गांव खोरी निवासी जावेद उर्फ जाबिद। इस पर दिल्ली पुलिस ने 50 हजार का इनाम रखा हुआ है।

हरियाणा पुलिस ने शुक्रवार को बड़ी कामयाबी हासिल की है। मेवात में एक मुठभेड़ के दौरान पुलिस ने दिल्ली पुलिस की तरफ से 50 हजार रुपए के इनामी बदमाश को उसके तीन साथियों के साथ काबू किया है। आरोपियों से एक देसी पिस्तौल, एक देसी कट्टा और कारतूस भी बरामद हुआ है।

बदमाश की पहचान मेवात जिले के खोरी निवासी जावेद उर्फ जाबिद के रूप में हुई है। दिल्ली पुलिस के थाना ओखला दिल्ली से इसकी गिरफ्तारी पर 50 हजार रुपए का इनाम घोषित था। वहीं इसके तीन और साथियों में इसी के गांव का मोहन, जिले के दमदमा का अशोक और अलवर निवासी गजेंद्र उर्फ गज्जू हैं।

जावेद उर्फ जाबिद के साथी पुलिस की गिरफ्त में।

जावेद उर्फ जाबिद के साथी पुलिस की गिरफ्त में।

इस बारे में पुलिस अधिकारी ने बताया कि उन्हें इन चारों के तावड़ू रोड के पास एक सुनसान कोठरे में छिपे होने की सूचना मिली थी। पुलिस मौके पर पहुंची तो बदमाशों ने खुद को घिरा देखकर फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई के बाद निकलकर भागने की कोशिश में उन्हें काबू कर लिया। दीवार पर चढकर गहरी खाई में कूदकर भागते समय घायल हुए जावेद को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस बदमाशों की आपराधिक पृष्ठभूमि की जांच कर रही है। जांच के दौरान और घटनाओं का खुलासा होने की संभावना है।

5000 रुपए का वांछित इनामी बदमाश काबू
अन्य कार्रवाई में पुलिस ने नूंह जिले से 5,000 रुपए के इनामी अपराधी मुसाहिद उर्फ मूसा को गिरफ्तार किया है। यह नूंह और गुरुग्राम में लूट और डकैती की साजिश रचने के लगभग आधा दर्जन मामलों में शामिल था। काबू किया गया बदमाश लंबे समय से फरार चल रहा था। गुप्त सूचना मिलने पर इसे गांव बावला से दबोचा गया। गिरफ्तार बदमाशों के खिलाफ IPC की संबंधित धाराओं के तहत मामले दर्ज करके आगे की जांच जारी है।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

बिना श्रद्धालुओं की मौजूदगी के खुलेंगे यमुनोत्री, गंगोत्री के कपाट

नेशनल डेस्क: कोविड-19 के बढ़ते कहर के बीच विश्वप्रसिद्ध हिमालयी धामों यमुनोत्री और गंगोत्री के …