मलेरिया, डेंगू और कोरोना को मात दे दी, फिर कोबरा ने काट लिया; आंखें कमजोर हो गईं

 

इयान जोनस को हॉस्पिटल से डिस्चार्ज कर दिया गया है, लेकिन नजर कमजोर हो गई और चलने में भी परेशानी हो रही है।

काम के सिलसिले में राजस्थान आए ब्रिटिश नागरिक की यह कहानी हैरान करने वाली है। ब्रिटेन में रहने वाले इयान जोनस राजस्थान में पारंपरिक कलाकारों के लिए काम करते हैं। इसी वजह से भारत आए थे। तभी कोरोना के कारण लॉकडाउन लग गया। इसलिए जोनस वापस अपने देश नहीं जा पाए।

यहां रहते हुए उन्हें मलेरिया और डेंगू हो गया। इलाज के बाद ठीक हुए तो कोरोनावायरस ने चपेट में ले लिया। फिर उनका लंबा इलाज चला। आखिर इयान इस मुसीबत से भी उबर गए। राहत के कुछ ही दिन बीते थे कि एक दिन घर के बाहर कोबरा सांप ने इयान को डस लिया। हैरानी की बात यह है कि उन्होंने ये जंग भी जीत ली। इसके बाद इयान को हाल में जोधपुर के एक हॉस्पिटल से छुट्टी दे दी गई। अब वे वापस अपने घर जाने की तैयारी कर रहे हैं।

इयान का इलाज करने वाले डॉ. अभिषेक तातेड़ ने बताया कि इयान फिलहाल खतरे से बाहर हैं, लेकिन उन्हें धुंधला दिखाई दे रहा है। चलने में भी परेशानी हो रही है। ये किसी जहरीले सांप के डसने के लक्षण हैं। ये धीरे-धीरे ठीक हो जाएंगे।

पिता की वापसी के लिए बेटा जुटा रहा फंड
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इयान का परिवार हॉस्पिटल की फीस और उनके वापस आने का खर्च जुटाने के लिए एक ऑनलाइन मुहिम चला रहा है। इयान के बेटे ने कहा कि मेरे पिता एक फाइटर हैं। भारत में रहने के दौरान उनके सामने कई मुश्किलें आई हैं। कोरोना संकट की वजह से वह वापस नहीं लौट सके थे। इयान पहले हेल्थ वर्कर थे। बाद में वे कलाकारों के साथ काम करने लगे।

 

Check Also

पूर्व पार्षद को मौत के लिए मजबूर करने की आरोपी IPS मनीषा चौधरी रिलीव

  IPS मनीषा चौधरी। केंद्र सरकार ने 10 नवंबर को चंडीगढ़ की सिक्योरिटी और ट्रैफिक …