मथुरा जिला जज की अदालत में श्रीकृष्ण विराजमान ने केस दायर किया; कुछ देर में होगी सुनवाई, 12 दिन पहले सिविल कोर्ट ने खारिज की थी याचिका

 

सिविल कोर्ट में यह केस भगवान श्रीकृष्ण विराजमान, कटरा केशव देव खेवट, मौजा मथुरा बाजार शहर की ओर से वकील रंजना अग्निहोत्री और 6 अन्य भक्तों की ओर से दायर किया गया था।

  • श्रीकृष्ण विराजमान की ओर से अधिवक्ता रंजना अग्निहोत्री ने मुकदमा दायर किया है।
  • इससे पहले 30 सितंबर को सिविल जज सीनियर डिवीजन ने याचिका खारिज कर दी थी

श्रीकृष्ण विराजमान की ओर से मधुरा जिला जज की अदालत में केस दायर की गई है। मामले की सुनवाई कुछ देर में होगी। इससे पहले 25 सितंबर को सिविल जज सीनियर डिवीजन की कोर्ट से याचिका दायर की थी। जिसमें कृष्ण जन्मस्थान की 13.37 एकड़ जमीन के स्वामित्व की मांग करते हुए, शाही ईदगाह मस्जिद को अवैध बताते हुए उसे हटाने की मांग की गई थी। जिस पर 30 सितंबर को सुनवाई के बाद सिविल कोर्ट ने याचिका खारिज कर दी थी।

वादी ने कहा- जहां मस्जिद, वहीं कृष्ण का जन्मस्थान

श्रीकृष्ण विराजमान की वादी अधिवक्ता रंजना अग्निहोत्री ने बताया कि उन्होंने जिला जज मथुरा की अदालत में अपनी याचिका दायर की है। उन्होंने कहा कि जिस जगह पर शाही ईदगाह मस्जिद खड़ी है, उस जगह कारागार था, जहां भगवान कृष्ण का जन्म हुआ था।

दूसरी सुनवाई में खारिज हुई थी याचिका

श्रीकृष्ण विराजमान और सात अन्य ने श्रीकृष्ण जन्मभूमि को लेकर 25 सितंबर को स्थानीय कोर्ट में एक याचिका दाखिल की। 28 सितंबर को जज छाया शर्मा की कोर्ट में जैसे ही इस केस की फाइल पहुंची तो उन्होंने महज पांच मिनट के अंदर इसकी अगली तारीख तय कर दी थी। जिसे 30 सितंबर को खारिज कर दिया गया था।

 

Check Also

हाथरस केस : गांव पहुंची CBI, दो युवकों से पूछताछ के बाद एक को ले गई अपने साथ

हाथरस के कथित गैँगरेप केस में सीबीआई की जांच जारी है। बूलगढ़ी गांव में एकाएक सीबीआई …