Home / वायरल न्यूज़ / मजेदार जोक्स : एक औरत अपने नौकर से– जब तुम मेरे कमरे में आओ तो पहले दरवाज़ा खटखटाया करो, मै पता नहीं किस हालत में रहूँ ,नौकर –

मजेदार जोक्स : एक औरत अपने नौकर से– जब तुम मेरे कमरे में आओ तो पहले दरवाज़ा खटखटाया करो, मै पता नहीं किस हालत में रहूँ ,नौकर –

आज के समय में हर व्यक्ति अपने जीवन को हंसी खुँसी बिताना चाहता है लेकिन ज़िंदगी की भाग दौड़ में कही न कही किसी न किसी रूप में वह अपने आप को अकेला महसूस करता है| अपने काम या नौकरी का तनाव या किसी अन्य परेशानी की वजह से लोगो के चेहरे की मुस्कान तक जैसे गायब हो गयी है|हंसने और हँसाने से मानसिक तनाव तो दूर होता है ही साथ ही शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली भी मजबूत होती है तथा रोगों से लड़ने की हमारी ताकत बढ़ जाती है। वैज्ञानिकों ने माना है कि जो व्यक्ति जी भर कर हंसता है, वह अधिक जीता है।

देखा जाये तो हमारे जीवन में दुखी होने के तो तमाम कारण है लेकिन वहन खुश होने के लिए हमे कोई कारण जल्दी मिलता ही नहीं है लेकिन हम आपको बता दे किसी वजह से ही खुश हुआ जाये ये जरूरी तो नहीं अगर आप एक अच्छी जिंदगी जीना चाहते है तो बिना कारण भी खुश रहना सीखना होगा और ऐसे में आपको हंसाने का काम करेंगे कुछ मजेदार चुटकुले जिन्हें पढने के बाद आप भी अपनी सारी थकान और उदासी पल भर के लिए तो भूल ही जायेंगे |आज हम आपके सामने ऐसे ही कुछ एक चुटकुलों के बारे में बात करने वाले है। चलिए फिर शुरू करते है

1.मास्टरजी : ये बताओ कौन ज्यादा गुस्सा करता है लड़का या लड़की?
पप्पू : जाहिर सी बात है, लड़की मास्टरजी : वो कैसे? साबित करो
पप्पू : देखो वो फर्स्ट बेंचवाली पिंकी मुझे किस करेगी तो मैं गुस्सा नहीं करूँगा,
लेकिन मैं पिंकी को किस करूँगा तो पिंकी जरूर गुस्सा हो जायेगी।

2.सुमन ने देर रात को अपने घर का दरवाजा खटखटाया।
कुछ देर बाद सुमन की माँ ने दरवाजा खोला।
सुमन(रोते हुए) : माँ मैं आपको मुंह दिखाने के काबिल नहीं रही, मैं गलती से प्रेग्नेंट गईं हूँ ?
माँ ने गुस्से में खींचकर एक थप्पड़ मारा।
सुमन(जमीन पर लेटकर फूट फूटकर रोते हुए) : और मारो माँ ! मेरी गलती के लिए ये सजा बहुत कम है।
माँ : ये थप्पड़ मैंने इसलिए नहीं मारा कि तू प्रेग्नेंट है,
बल्कि इसलिए मारा है कि तू आज फिर दारू पीकर अपने आपको लड़की समझ रहा है

3.गर्लफ्रेंड – दरवाजा खोलो ना बाबू लड़का – कहाँ हो तुम ?
गर्लफ्रेंड – तुम्हारे घर के बाहर खड़ी हूँ लड़का अपनी छोटी बहन को दरवाजा खोलने भेजता है
गर्लफ्रेंड – कैसी हो बेटा ? छोटी बच्ची –आप रोज मेरे भैया से मिलने आती हो
आपका अपना कोई भाई नहीं है क्या

4.पत्नी (पति से)-यह लीजिए बालों को मजबूत करने वाले तेल की शीशी,
पति (पत्नी से)-पर मेरे बाल तो झाड़ते ही नही.
पत्नी (पति से)-ये आपके लिए नही,आपकी सेक्रेट्री के लिए है.

Loading...

Check Also

कोरोना ने छीना यौनकर्मियों का निवाला, ना पास में पैसा, ना अन्न का दाना

नई दिल्ली: ‘हमारी जिंदगी पहले ही किसी नरक से कम नहीं थी और कोरोना महामारी ...