मछली खाकर दूध पीने से क्या होते हैं सफेद दाग, जानिए पूरा सच

नई दिल्ली: मछली और दूध के कॉम्बो से सफेद दाग़ होने वाली बात में कितनी सच्चाई है? कुछ लोग कहते हैं कि मछली खाने के बाद दूध पीने से ल्यूकोडर्मा रोग हो जाता है. मतलब शरीर में सफेद दाग बन जाते हैं. और वो बहुत ही बुरे लगते है

विश्व की कई अन्य संस्कृतियों में भी मछली और दूध के योग के दुष्परिणाम गिनाए जाते रहे हैं.आइए पहले आपको बताते हैं कि ल्यूकोडर्मा होता क्या है?ल्यूकोडर्मा के हिंदी अर्थ को तो हम जानते ही हैं – शरीर में सफेद दाग का बन जाना. लेकिन शरीर में ये सफेद दाग कैसे बनता है?

दरअसल जब शरीर को कोई विशेष रंग देने वाली कोशिकाएं किसी जगह पर मर जाती हैं तो वहां की त्वचा का रंग चला जाता है और वो सफ़ेद हो जाती है.क्या मछली और दूध एक साथ खाने से ऐसा होता है?

नहीं! बहुत सिंपल उत्तर है. इसमें किसी डॉक्टर या विशेषज्ञ की कोई और राय नहीं है. भारत में न केवल बंगाल, बल्कि पूरे विश्व में तरह तरह के मछली + दूध के कॉम्बिनेशन पाए और खाए जाते रहे हैं. वैसे मछली में प्रोटीन की काफी मात्रा होती है और डाईट का एक गोल्डन रूल ये है कि दूध के साथ ज़्यादा प्रोटीन वाली कोई भी चीज़ एक अच्छा कॉम्बिनेशन नहीं बनाती.

Check Also

Dahi-Kishmis Benefits: फिट रहना है तो दही में किशमिश के साथ मिला लें बस ये एक चीज, चौंका देंगे फायदे

Health Tips: सेहतमंद शरीर ही हमारा सबसे बड़ा वरदान है. हम हेल्दी रहने के लिए क्या …