मकर संक्रांति पुरुषार्थ का उत्सव, सतर्कता से सहभागी बनें: योगी आदित्यनाथ

गोरखपुर : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मकर संक्रान्ति पर प्रदेशवासियों को बधाई और शुभकामनाएं देते हुए मकर संक्रांति के उत्सव को पुरुषार्थ का उत्सव बताया।
उन्होंने कहा कि पिछले 10 महीनों से श्रद्धालुजनों, प्रदेश एवं देश वासियों और दुनिया के तमाम देशों में इस सदी की भीषणतम महामारी कोरोना से जुझते हुए मानवता के सामने संकट खड़ा हुआ था। आज उस संकट से देश सफलता पूर्वक उभर रहा है। कोरोना मामलों में गिरावट आई है।
पुरुषार्थ का फल है दो-दो वैक्सीन और कोरोना मरीजों में गिरावट
उन्होंने कहा कि आज से दो महीने पहले उत्तर प्रदेश में 68 हजार से अधिक एक्टिव केस थे, लेकिन आज यह संख्या घटकर 10 हजार से नीचे आ चुकी है। भारत ने कोरोना से बचाव के लिए एक साथ 2-2 वैक्सीन लांच की है। 16 जनवरी से वैक्सीन लगाई जाएगी। लेकिन वैक्सीन अपना काम एक निश्चित समय में करेगी। उसे एक्टिवेट होने में समय लगेगा। सावधानी एवं सतर्कता इसके लिए आवश्यक है। इसे हर एक नागरिक तक पहुंचने में भी समय लगेगा। यही पुरुषार्थ से किये गए कार्य का शुभफल है।
दो गज की दूरी के साथ खिचड़ी में सहभागी बनें
मुख्यमंत्री ने कहा कि मकर संक्रांति में सभी एक साथ सहभागी बने। बावजूद इसके दो गज की दूरी एवं मास्क लगाने का पालन जरूरी है। कोरोना से शुरू हुई लड़ाई को मजबूती से आगे बढ़ाने एवं इसे सफल करने में हर देशवासी का सहभागी बनना जरूरी है।
जीवन भर उत्साह-उमंग भरने वाला है पर्व
उन्होंने देशवासियों को मकर संक्रांति की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि यह पर्व श्रद्धालु के जीवन में उमंग और उत्साह भरने वाला है। मकर संक्रांति से ही भगवान सूर्य देव उत्तरायण होते हैं। सतानत धर्म की परम्परा के मुताबिक यह एक प्रशस्त एवं शुभ तिथि मांगलिक कार्यो के लिए भी मानी जाती है।

Check Also

कैलाश विजयवर्गीय का बड़ा दावा, कहा- हमारे सम्पर्क में हैं TMC के 41 विधायक

इंदौर: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय महासचिव और पश्चिम बंगाल बीजेपी प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने आज इंदौर में बड़ा …