भिक्षुओं को एयरस्ट्राइक का डर:म्यांमार में सेना की फायरिंग से डरे थाईलैंड के भिक्षु, छिपने के लिए पहाड़ खोदकर बंकर बना रहे

 

म्यांमार बॉर्डर के करीब थाईलैंड के बौद्ध भिक्षुओं ने पहाड़ खोदकर बंकर बनाने शुरू कर दिए हैं, ताकि गंभीर स्थिति में वहां छिपकर अपनी जा बचा सकें। - Dainik Bhaskar

म्यांमार बॉर्डर के करीब थाईलैंड के बौद्ध भिक्षुओं ने पहाड़ खोदकर बंकर बनाने शुरू कर दिए हैं, ताकि गंभीर स्थिति में वहां छिपकर अपनी जा बचा सकें।

म्यांमार में सैन्य तख्तापलट के 63 दिन बाद भी प्रदर्शन जारी हैं, जिन्हें रोकने के लिए सेना फायरिंग के साथ-साथ एयरस्ट्राइक भी कर रही है। इनकी चपेट में आकर अब तक 550 के करीब मौतें हो चुकी हैं। जबकि 10 हजार से ज्यादा लोग देश छोड़ चुके हैं।

इस बीच म्यांमार बॉर्डर के करीब थाईलैंड के बौद्ध भिक्षुओं ने पहाड़ खोदकर बंकर बनाने शुरू कर दिए हैं, ताकि गंभीर स्थिति में वहां छिपकर अपनी जा बचा सकें। दरअसल, एयरस्ट्राइक के बाद हजारों लोग थाईलैंड की ओर पलायन कर रहे हैं और बॉर्डर के पास छिपे हैं। भिक्षुओं को डर है कि उनकी तलाश में म्यांमार की सेना कभी भी एयरस्ट्राइक कर सकती है।

म्यांमार के साथ US ने बंद किया कारोबार

म्यांमार में लोगों पर सेना के बढ़ते अत्याचार पर अमेरिका ने कुछ दिन पूर्व सख्ती दिखाई है। US ने म्यांमार के साथ तब तक ट्रेड न करने का का फैसला लिया है, जब तक वहां लोकतंत्र की वापसी नहीं हो जाती। अमेरिका के साथ ही 12 देशों के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) ने भी म्यांमार में सैनिक शासन का विरोध किया है।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

वैक्सीनेशन प्रोग्राम:न्यूयॉर्क में वैक्सीन लगवाने वालों में एशियाई ज्यादा, डोज लेने में दूसरा बड़ा आंकड़ा श्वेत वयस्कों का

एशियन अमेरिकन समुदाय के लोग सबसे ज्यादा वैक्सीन लगवाने के लिए आ रहे हैं। अमेरिका …