भाइयों ने 3 हफ्ते में घर पर उगाया हट्टे-कट्टे भैंसे से भी भारी कद्दू, 1 से ही मोहल्ले भर के लोग खा लेंगे सब्जी

सोशल मीडिया पर लोगों की नजरों में ऐसी चीजें आती जाती हैं, जिन्हें देखने के बाद उनपर यकीन करना मुश्किल होता है। कई बार लगता है कि ये पक्का फोटोशॉप का कमाल होगा। लेकिन असल में वो रियल होते हैं। अब अगर आपको कहा जाए कि दो लोगों ने मात्र 3 हफ्ते में अपने घर के बगीचे में 11 सौ 76 किलो का कद्दू उगा डाला तो? इसकी तस्वीरें देखने के बाद भी इसपर यकीन नहीं होगा। लेकिन ये सच है। यूके में रहने वाले दो भाइयों ने इस कद्दू को उगाया है। दोनों ने इससे पहले यूके के सबसे बड़े कद्दू का रिकॉर्ड तोड़ डाला। हालांकि दोनों वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़ने से चूक गए।

यूके के लैमिंग्टन के हैम्पशायर न्यू फॉरेस्ट नेशनल पार्क में रहने वाले जुड़वां भाइयों इयान और स्टुअर्ट पैटन ने 11 सौ 76 किलो का कद्दू उगाया है। इसे देखने दूर-दूर से लोग आ रहे हैं।

<p>इस कद्दू का वजन एक हट्टे कट्ठे बैल से भी ज्यादा है। इतना ही नहीं, वजन के मुताबिक, इसके आगे दो पोलर बियर भी हलके हैं। तीन हफ्ते में भाइयों ने इसे उगा डाला।&nbsp;</p>

इस कद्दू का वजन एक हट्टे कट्ठे बैल से भी ज्यादा है। इतना ही नहीं, वजन के मुताबिक, इसके आगे दो पोलर बियर भी हलके हैं। तीन हफ्ते में भाइयों ने इसे उगा डाला।

<p>इस कद्दू ने यूके का सबसे बड़े कद्दू का रिकॉर्ड बनाया है। इससे पहले ये रिकॉर्ड 11 सौ 3 किलो के कद्दू के नाम था। लेकिन अब उससे भी बड़ा कद्दू उगा कर उन्होंने रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है।&nbsp;</p>

इस कद्दू ने यूके का सबसे बड़े कद्दू का रिकॉर्ड बनाया है। इससे पहले ये रिकॉर्ड 11 सौ 3 किलो के कद्दू के नाम था। लेकिन अब उससे भी बड़ा कद्दू उगा कर उन्होंने रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है।

<p>हालांकि ये भाई इसे वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल करने से चूक गए। मात्र साढ़े 13 किलो से वो इसे वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल करने से चूक गए। जिस कद्दू के नाम पर वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज है उसका वजन 11 सौ 89 किलो है।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

हालांकि ये भाई इसे वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल करने से चूक गए। मात्र साढ़े 13 किलो से वो इसे वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल करने से चूक गए। जिस कद्दू के नाम पर वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज है उसका वजन 11 सौ 89 किलो है।

<p>इस कद्दू को उगाने के लिए दोनों भाई हर दिन इसपर 6 घंटे इन्वेस्ट करते थे। ये कद्दू हर दिन 23 किलो के हिसाब से बढ़ रहा था। ये भाई इस कद्दू को एन्युअल पंपकिन फेस्टिवल के लिए ऊगा रहे थे।&nbsp;</p>

इस कद्दू को उगाने के लिए दोनों भाई हर दिन इसपर 6 घंटे इन्वेस्ट करते थे। ये कद्दू हर दिन 23 किलो के हिसाब से बढ़ रहा था। ये भाई इस कद्दू को एन्युअल पंपकिन फेस्टिवल के लिए ऊगा रहे थे।

<p>लेकिन कोरोना की वजह से फेस्टिवल कैंसल हो गया। इसके बाद दोनों ने खुद से ही इसे ड्राइव थ्रू के जरिए मेजर करवाया। हालांकि, वर्ल्ड रिकॉर्ड ना बना पाने के कारण वो थोड़ा मायूस हो गए। &nbsp;</p>

लेकिन कोरोना की वजह से फेस्टिवल कैंसल हो गया। इसके बाद दोनों ने खुद से ही इसे ड्राइव थ्रू के जरिए मेजर करवाया। हालांकि, वर्ल्ड रिकॉर्ड ना बना पाने के कारण वो थोड़ा मायूस हो गए।

<p>इस कद्दू के बारे में उन्होंने बताया कि इसके बीज उन्होंने अप्रैल में लगाया था। लेकिन इसके 120 दिन तक ये उगा ही नहीं। तब इसका साइज सिर्फ एक गोल्फ बॉल जितना था। लेकिन आखिरी के 21 दिन में ये इतना बड़ा हो गया।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

इस कद्दू के बारे में उन्होंने बताया कि इसके बीज उन्होंने अप्रैल में लगाया था। लेकिन इसके 120 दिन तक ये उगा ही नहीं। तब इसका साइज सिर्फ एक गोल्फ बॉल जितना था। लेकिन आखिरी के 21 दिन में ये इतना बड़ा हो गया।

<p>दोनों भाई पिछले 40 साल से कद्दू उगा रहे हैं। यूके का पिछला रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम था। उन्होंने बताया कि कद्दू उगाने का उन्हें नशा हो गया है। कई बार वो इसे छोड़ने का फैसला करते हैं लेकिन कुछ ही दिन बाद बीज बोने लगते हैं।&nbsp;</p>

दोनों भाई पिछले 40 साल से कद्दू उगा रहे हैं। यूके का पिछला रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम था। उन्होंने बताया कि कद्दू उगाने का उन्हें नशा हो गया है। कई बार वो इसे छोड़ने का फैसला करते हैं लेकिन कुछ ही दिन बाद बीज बोने लगते हैं।

<p>अब वो इस कद्दू को काटकर किसी हॉस्पिटल में या चैरिटी में सबको सर्व करेंगे। पिछली बार भी उन्होने ऐसा ही किया था। इन भाइयों ने इस साल एक लाख मीठे कद्दू उगाए हैं। वो चैरिटी में देंगे।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

अब वो इस कद्दू को काटकर किसी हॉस्पिटल में या चैरिटी में सबको सर्व करेंगे। पिछली बार भी उन्होने ऐसा ही किया था। इन भाइयों ने इस साल एक लाख मीठे कद्दू उगाए हैं। वो चैरिटी में देंगे।

Check Also

23 दोस्तों को लेकर डेट पर पहुंची युवती, बिल देखकर भागा ब्वॉयफ्रेंड

प्रेमी और प्रेमिकाओं के बीच डेट पर जाना आम बात है लेकिन क्या कभी आपने …