ब्लैकमेलिंग में गंवाई जान:छोटे ठाकुर की हत्या में पकड़ा गया युवक बोला- आपित्तजनक फोटो खींची थी, इसलिए मारने के सिवाए और कोई रास्ता नहीं था

 

पुलिस की गिरफ्त में छोटे ठाकुर हत्याकांड का आरोपी (गमछे से चेहरा ढंका हुआ) - Dainik Bhaskar

पुलिस की गिरफ्त में छोटे ठाकुर हत्याकांड का आरोपी (गमछे से चेहरा ढंका हुआ)

  • आठ दिन पहले हुई थी हत्या, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

छोटे ठाकुर नाम के शख्स की हुई सनसनीखेज हत्या का खुलासा पुलिस ने आठवें दिन कर दिया। पुलिस का दावा है कि अप्राकृतिक संबंधों को लेकर वारदात को अंजाम दिया गया। आरोपी ने जुर्म स्वीकार कर लिया है। आरोपी का कहना है कि उसके पास हत्या के सिवाए कोई दूसरा रास्ता नहीं बचा था। अगर वह ठाकुर की हत्या नहीं करता तो ठाकुर उसकी हत्या कर देता। पुलिस ने आरोपी को सोमवार को कोर्ट में पेश किया है। जहां से उसे पुलिस रिमांड पर देने के लिए अदालत से अर्जी लगाई गई है।

छोटे ठाकुर हत्याकांड के खुलासे की जानकारी देते एएसपी अमरेंद्र सिंह व सीएसपी वंदना

छोटे ठाकुर हत्याकांड के खुलासे की जानकारी देते एएसपी अमरेंद्र सिंह व सीएसपी वंदना

गौरतलब है कि प्रॉपर्टी ब्रोकर कृष्णपाल सिंह उर्फ छोटे ठाकुर का खून से लथपथ नग्न अवस्था में शव 15 फरवरी को नानाखेड़ा थाना क्षेत्र के अभिषेक नगर स्थित एक मकान में मिला था। हत्याकांड का खुलासा करते हुए एएसपी अमरेंद्र सिंह ने बताया कि छोटे ठाकुर की हत्या के आरोप में बहादुरगंज एरिया से एक युवक को गिरफ्तार किया गया है। उसने जुर्म कबूल कर लिया है।

पुलिस के मुताबिक आरोपी ने बताया कि उसका मेडिकल स्टोर था। लॉकडाउन में व्यापार ठप हो गया तो वह प्रॉपर्टी की खरीद-फरोख्त के धंधे में उतर गया। इसी धंधे में उसकी पहचान छोटे ठाकुर से हुई। दोस्ती होने के बाद छोटे ठाकुर से हमारा लेन-देन भी शुरू हो गया। उसने मुझसे 18 हजार रुपए लिए थे। 15 फरवरी की रात 11 बजे छोटे ठाकुर ने उधार लिए हुए पैसे देने के लिए फोन कर बुलाया। ठाकुर उसे अभिषेक नगर स्थित मकान पर ले गया।

मृतक छोटे ठाकुर (फाइल फोटो)

मृतक छोटे ठाकुर (फाइल फोटो)

चाकू दिखाकर अप्राकृतिक यौन शोषण करना चाहता था ठाकुर
एएसपी सिंह के मुताबिक पूछताछ में आरोपी ने बताया कि मकान में हम दाखिल हुए। कुछ देर बातचीत के बाद अंदर कमरे में ठाकुर ने चाकू दिखा आरोपी से कपड़े उतारने को कहा। आरोपी ने जब मना कर दिया तो ठाकुर ने उस पर चाकू से दो वार किए। जो हाथ में लगे। आरोपी ने डर कर कपड़े उतार दिए। आरोपी को ठाकुर आपत्तिजनक हालत में पहले से खींचे हुए फोटो दिखाकर ब्लैकमेल करने लगा। अपनी जान पर बनी देख आरोपी ने ठाकुर से चाकू छीन लिया और उस पर हमला बोल दिया। पहला वार सीने में लगा और ठाकुर वहीं गिर गया। इसके बाद ताबड़तोड़ 16 वार कर ठाकुर को मार डाला।

हत्या के बाद वॉश बेसिन में हाथ धोए और घर आ गया
आरोपी ने ठाकुर की हत्या के बाद किचन में वॉशबेसिन में अपने खून से सने हाथ धुले। उसके बाद वहां से ठाकुर के दो मोबाइलों को लेकर भाग निकला। रास्ते में दो तालाब स्थित तालाब में मोबाइल को फेंक दिया। घर पहुंचा और फिर वहां से फरार हो गया।

राजस्थान, दिल्ली व उत्तराखंड में काटी फरारी
हत्या के बाद आरोपी राजस्थान भाग गया। एक-दो दिन बिताने के बाद वहां से दिल्ली चला गया। दिल्ली से हरिद्वार आया। एएसपी ने बताया कि आरोपी के मंदसौर आने की खबर मिलने पर साइबर सेल इंस्पेक्टर योगेंद्र सिंह सिसौदिया टीम के साथ दबिश दी। आरोपी को मौके से पकड़ लिया गया।

 

Check Also

मुख्तार अंसारी को उप्र वापस भेजने की यूपी सरकार की मांग पर फैसला सुरक्षित

नई दिल्ली:  सुप्रीम कोर्ट ने मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश वापस भेजने की उप्र सरकार …