ब्लाइंड मर्डर केस में खुलासा:दुष्कर्म के आरोपी कोच ने ही की थी भोपाल की महिला वेटलिफ्टर की गला रेतकर हत्या

हत्या का अारोपी कोच भगत सिंह, जिसे हरिद्वार से गिरफ्तार किया गया है। - Dainik Bhaskar

हत्या का अारोपी कोच भगत सिंह, जिसे हरिद्वार से गिरफ्तार किया गया है।

  • भोपाल टू रोहतक तक चली जांच, 44 घंटे में आरोपी गिरफ्तार

भोपाल की महिला वेटलिफ्टर की हत्या के मामले में पुलिस ने 44 घंटे में खुलासा कर दिया है। पुलिस ने आराेपी कोच भगत सिंह को हरिद्वार से गिरफ्तार किया है। पुलिस जांच में सामने आया कि आरोपी के साथ महिला के पिछले चार साल से संबंध थे।

महिला ने कोच भगत सिंह पर वर्ष 2018 में रोहतक के अर्बन एस्टेट थाने में दुष्कर्म का केस दर्ज करवाया था। गिरफ्तारी के बाद आरोपी काेच ने कबूल किया है महिला खिलाड़ी अब उस पर शादी करने का दबाव बना रही थी, जबकि वाे पहले से ही शादीशुदा है।

पुलिस के अनुसार 16 फरवरी को आरोपी कोच भगत सिंह भोपाल की जिला अदालत के जेएमआईसी आशीष परसाई की कोर्ट में पेश होने के लिए गया था। मामला महिला खिलाड़ी की शिकायत पर दुष्कर्म केस का है। वहां महिला खिलाड़ी के साथ आरोपी की बातचीत हुई।

इसके बाद आरोपी महिला खिलाड़ी को बहलाकर उसी दिन अपने साथ ट्रेन में भोपाल से रोहतक ले आया। 17 फरवरी की सुबह वो रोहतक पहुंचे। यहां आरोपी महिला खिलाड़ी को बाइक पर बैठा गहरी धुंध में धामड़ गांव की नहर पर ले गया। पुलिस के अनुसार आरोपी कोच ने महिला खिलाड़ी के बैग में रखे फल काटने के चाकू से उसका गला रेत दिया। बाद में उसका फोन व अन्य सामान लेकर वहां से फरार हो गया।

महिला खिलाड़ी के शव की जेब से मिली भोपाल रेलवे स्टेशन स्थित बाइक पार्किंग की पर्ची व होटल के खाने के बिल से हुई थी पहचान

रोहतक पुलिस को धामड़ गांव के पास नहर की पटरी पर महिला खिलाड़ी का शव मिला था। मामला ब्लाइंड मर्डर से जुड़ा था। लाश की तलाशी पर पुलिस को खिलाड़ी की पैंट की जेब से भोपाल के हबीबगंज रेलवे स्टेशन की पार्किंग स्लिप और एक भोपाल के होटल में खाने का बिल भी बरामद हुआ।

पार्किंग की पर्ची पर महिला खिलाड़ी की बाइक का नंबर दर्ज मिला। जांच में बाइक युवती के नाम से रजिस्टर्ड मिली। इसके आधार पर युवती की पहचान भोपाल के साकेत नगर निवासी एक वेटलिफ्टर खिलाड़ी के रूप में हुई। इसके बाद पुलिस ने हत्या केस की कड़ियां जोड़नी शुरू की और वह आरोपी कोच तक पहुंच ही गई। रोहतक पुलिस ने इस मामले में भोपाल पुलिस की भी मदद ली।

महिला खिलाड़ी के फोन से पकड़ में आया आरोपी कोचयुवती ने 2018 रोहतक में वेट लिफ्टर कोच भगत सिंह के खिलाफ दुष्कर्म का केस दर्ज करवाया रखा है। थाना सदर पुलिस ने जांच के दौरान आरोपी कोच भगत सिंह की तलाश पहले दिन से ही शुरू की। इसके बाद रोहतक के बसंत विहार में कोच के किराये के मकान पर पुलिस गई तो पता चला कि वह कई दिन पहले ही इस मकान को छोड़ चुका है।

इसके बाद सोनीपत के पैतृक गांव माहरा में छापेमारी तो कोच वहां से भी गायब मिला। ऐसे में पुलिस का शक गहराता गया। पुलिस ने कोच और महिला खिलाड़ी के मोबाइल नंबर ट्रेस किया। उसकी लोकेशन हरिद्वार की मिली। इसके बाद पुलिस ने हरिद्वार में आरोपी की लोकेशन ट्रेस कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

 

Check Also

मुख्तार अंसारी को उप्र वापस भेजने की यूपी सरकार की मांग पर फैसला सुरक्षित

नई दिल्ली:  सुप्रीम कोर्ट ने मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश वापस भेजने की उप्र सरकार …