बैंक की आग बुझी:यूको बैंक मोरिंडा में शॉर्ट सर्किट से लगी आग 3 एसी, 5 कंप्यूटर, फर्नीचर और सीलिंग जली

 

आग बुझने के बाद बैंक के अंदर जांच करते पुलिस अधिकारी। - Dainik Bhaskar

आग बुझने के बाद बैंक के अंदर जांच करते पुलिस अधिकारी।

  • सुबह 6 बजे की घटना, आसपास के लोगों ने धुआं निकलता देखा तो मैनेजर को बताया
  • मोरिंडा में फायर ब्रिगेड न होने से 15 किमी. दूर चमकौर साहिब व 21 किमी. दूर रोपड़ से आए फायर कर्मी, आग बुझाने में लगे 2 घंटे

मोरिंडा के भगवान विश्वकर्मा चौक के पास स्थित यूको बैंक में बुधवार सुबह करीब 6 बजे शॉर्ट सर्किट से अचानक आग लग गई। इससे बैंक के अंदर 3 एसी, 5 कंप्यूटर, फर्नीचर और सीलिंग सहित अन्य सामान जल गया। आगजनी पर 2 फायर ब्रिगेड की गाड़ियों ने करीब 2 घंटे बाद काबू पाया।

आसपास के लोगों ने बताया कि सुबह करीब 6 बजे बैंक के अंदर से धुआं निकलता देखा। इसके बाद तुरंत इसकी जानकारी असिस्टेंट बैंक मैनेजर को दी। असिस्टेंट बैंक मैनेजर समरजीत सिंह ने मौके पर पहुंचकर बैंक का शटर खुलवाया तो देखा कि अंदर आग लगी हुई थी।

इसके बाद नजदीक के दुकानदारों और लोगों ने आग पर काबू पाने की कोशिश की लेकिन वह नाकाम रहे। इसके बाद इस घटना की सूचना पुलिस को दी गई और तो चमकौर साहिब और रोपड़ से फायर ब्रिगेड की गाड़ीयां मंगवाई गई। बता दें कि मोरिंडा में अपनी फायर ब्रिगेड नहीं है।

इसके चलते बैंक में लगी आग पर काबू पाने के लिए 15 किलोमीटर दूर चमकौर साहिब और 21 किलोमीटर दूर रोपड़ से फायर ब्रिगेड मंगवानी पड़ी। गाड़ियों को मोरिंडा पहुंचने में काफी समय लग गया। जितने समय में फायर ब्रिगेड घटना स्थल पर पहुंची, उतने में काफी नुकसान हो चुका था।

अगर मोरिंडा में फायर ब्रिगेड होती तो शायद बचाव हो जाता। वहीं बैंक के अधिकारियों ने बताया कि आग लगने का मुख्य कारण शॉर्ट सर्किट ही मान जा सकता है। बाकी नुकसान का अभी अनुमान लगाना बाकी है।

7 बजे घटना का पता चला तो आकर शटर खोला : मैनेजर

बैंक मैनेजर समरजीत सिंह ने बताया कि उन्हें करीब 7 बजे फोन पर पता चला कि बैंक के अंदर आग लगी हुई है। इसके बाद वह तुरंत बैंक में पहुंचे और इसकी सूचना पुलिस और फायर ब्रिगेड को दी। उन्होंने कहा कि फायर ब्रिगेड के आने पर करीब 2 घंटे बाद आग पर काबू पाया गया।

आग बुझाने के बाद जब अंदर जाकर देखा तो बैंक के अंदर पड़ा पूरा सामान जल चुका था। आग लगने का मुख्य कारण पता नहीं चला। शॉर्ट सर्किट से ही आग लगने की आशंका है। आग के कारण कितने रुपए का नुकसान हुआ है, इस संबंधी अभी कुछ पता नहीं।

उच्चाधिकारियों को घटना के बारे में सूचित कर दिया है। उनके आने के बाद ही नुकसान का पता चल पाएगा। लेकिन आगजनी से बैंक में लगे 3 एसी, 5 कंप्यूटर, फर्नीचर, सीलिंग समेत अन्य सामान जल गया।

जानकारी मिलते ही आग बुझाने के प्रयास शुरू कर दिए थे : पुलिस

मौके पर पहुंचे एएसआई राज कुमार और एएसआई विशाल कुमार ने बताया कि आग लगने की सूचना मिलने के तुरंत बाद वह तुरंत घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने पहले लोगों की सहायता से आग पर काबू पाने की कोशिश की।

जबकि इससे पहले फायर ब्रिगेड को फोन कर दिया गया था। उन्होंने बताया कि चमकौर साहिब और रोपड़ से आई 2 गाड़ियों की सहायता से इस आग की घटना पर काबू पाया गया।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

कोरोना काल में मसीहा बना वैभव

गोपेश्वर, 15 जून (हि.स.)। चमोली जिले के सीमान्त विकासखंड जोशीमठ में कोरोना की लहर भले …