बेटा निकला गे, तो पूर्व DGP ने बहू से कहा-‘मेरे साथ संबंध बनाओ’, सास ने कहा-‘सब भूलकर, NGO में टाइम बिताओ’

रांची, झारखंड. राज्य के पूर्व डीजीपी डीके पांडेय की बहू ने उन पर सनसनीखेज आरोप लगाया है। पांडेय की बहू ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है कि उनका पति गे है। इसलिए ससुर खुद फिजिकल रिलेशन बनाने के लिए दबाव डालते हैं। बता दें कि पांडेय जब झारखंड के डीजीपी थे, तब उन्होंने महिलाओं की सुरक्षा को लेकर काफी काम किया था। उन्होंने महिलाओं को प्रताड़ना से बचाने ‘महिला शक्ति’ एप लॉन्च कराया था। लेकिन इस मामले ने उनके व्यक्तित्व पर सवाल खड़े कर दिए हैं। उनकी बहू रेखा मिश्रा पांडेय ने शनिवार को महिला थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। बहू ने आरोप लगाया है कि उनके ससुर दूसरों के साथ भी संबंध बनाने को कहते हैं। पुलिस ने डीके पांडेय, उनकी पत्नी पूनम पांडेय और पति शुभांकर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। रेखा और शुभांकर की तीन साल पहले शादी हुई थी।

रेखा ने ससुरालवालों पर दहेज प्रताड़ना का भी आरोप लगाया है। रेखा ने कहा कि उन्हें मानसिकतौर पर प्रताड़ित किया जा रहा है। जब वे इसका विरोध जतातीं, तो धमकाया जाता था। जब यह सब उनकी बर्दाश्त से बाहर हुआ, तो वे मायके आ गईं। रेखा भाजपा नेता गणेश मिश्रा की बेटी हैं। वे एक NGO चलाती हैं। गणेश मिश्रा खुद अपनी बेटी को लेकर डीएसपी से मिले थे। इसके बाद शनिवार को मामला दर्ज किया गया। यह तस्वीर फरवरी 2016 की है। महाशिवरात्रि पर डीके पांडेय परिवार के साथ शक्तिपीठ रजरप्पा पहुंचे थे। उन्होंने गले में सांप लपेटा था। इस पर प्रधान वन संरक्षक वन्य जीव रत्नाकर सिंह ने उन्हें नोटिस भेजा था।

<p>रेखा और शुभांकर की शादी 15 फरवरी, 2016 को रांची में बड़ी धूमधाम से हुई थी। शादी के बाद वे पति और सास-ससुर के साथ जमशेदपुर सर्किट हाउस के समीप केडी अपार्टमेंट में फ्लैट नंबर 118 और 121 में रहने लगी थीं। रेखा ने शिकायत में बताया कि शादी के दूसर दिन ही उन्हें पति के गे होने का पता चल गया था। इस बारे में जब सास-ससुर को बताया गया, तो उनका बर्ताव सामान्य था। उन्हें इस बारे में पता था। वे शुभांकर का इलाज कराने की बात करते रहे। <strong>(तस्वीर पूर्व डीजीपी डीके पांडेय)</strong></p>

रेखा और शुभांकर की शादी 15 फरवरी, 2016 को रांची में बड़ी धूमधाम से हुई थी। शादी के बाद वे पति और सास-ससुर के साथ जमशेदपुर सर्किट हाउस के समीप केडी अपार्टमेंट में फ्लैट नंबर 118 और 121 में रहने लगी थीं। रेखा ने शिकायत में बताया कि शादी के दूसर दिन ही उन्हें पति के गे होने का पता चल गया था। इस बारे में जब सास-ससुर को बताया गया, तो उनका बर्ताव सामान्य था। उन्हें इस बारे में पता था। वे शुभांकर का इलाज कराने की बात करते रहे। (तस्वीर पूर्व डीजीपी डीके पांडेय)

<p>रेखा ने कहा कि उन्होंने तीन साल तक इंतजार किया कि शायद शुभांकर में कुछ बदलाव आए। बहू ने कहा कि उनके पति, ससुर और सास दूसरों से संबंध बनाने को विवश करने लगे, तो उनसे रहा नहीं गया और वे मायके आ गईं। एक बार घर में अकेली होने पर ससुर ने उनसे संबंध बनाने को कहा था।<strong> (तस्वीर पूर्व डीजीपी डीके पांडेय)</strong></p>

रेखा ने कहा कि उन्होंने तीन साल तक इंतजार किया कि शायद शुभांकर में कुछ बदलाव आए। बहू ने कहा कि उनके पति, ससुर और सास दूसरों से संबंध बनाने को विवश करने लगे, तो उनसे रहा नहीं गया और वे मायके आ गईं। एक बार घर में अकेली होने पर ससुर ने उनसे संबंध बनाने को कहा था। (तस्वीर पूर्व डीजीपी डीके पांडेय)

<p>रेखा ने कहा कि कई बार उनके मन में सुसाइड का ख्याल आया। सास बात को टालने अकसर कहती थीं कि वो अपने एनजीओ में ध्यान दे। बता दें कि पांडेय पर पत्नी के नाम पर गलत तरीके से जमीन खरीदने और उस पर मकान बनवाने का भी आरोप लगा था।</p>

रेखा ने कहा कि कई बार उनके मन में सुसाइड का ख्याल आया। सास बात को टालने अकसर कहती थीं कि वो अपने एनजीओ में ध्यान दे। बता दें कि पांडेय पर पत्नी के नाम पर गलत तरीके से जमीन खरीदने और उस पर मकान बनवाने का भी आरोप लगा था।

<p>झारखंड के डीजीपी रहते हुए डीके पांडेय महिला मुद्दों पर काफी मुखर माने जाते थे। लेकिन अपनी ही बहू के इल्जाम के बाद उनकी छवि धूमिल हो गई है।</p>

झारखंड के डीजीपी रहते हुए डीके पांडेय महिला मुद्दों पर काफी मुखर माने जाते थे। लेकिन अपनी ही बहू के इल्जाम के बाद उनकी छवि धूमिल हो गई है।

Check Also

झारखंड पुलिस का बड़ा फ़ैसला, रांची में अब WhatsApp से दर्ज करा सकेंगे FIR, ये है वजह

झारखंड में कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे है. आम लोगों के साथ ही बड़ी …