बेजुबानों से क्रूरता पर भड़कीं मेनका गांधी:कुशीनगर में कुत्ते को मारी हंसिया तो सीतापुर में लाठी-डंडों से पीटा, इंस्पेक्टर से फोन कर बोलीं मेनका, दो थप्पड़ लगाकर जेल भेजो

 

मुकदमा दर्ज कर आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है। - Dainik Bhaskar

मुकदमा दर्ज कर आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है।

उत्तर प्रदेश के सीतापुर में बेजुबान से क्रूरता करने का मामला सामने आया तो मेनका गांधी से बर्दाश्त नहीं हुआ। उन्होंने तुरंत इंस्पेक्टर से बात कर कार्रवाई करने के लिए कहा। इंस्पेक्टर से फोन करके वह बोलीं कि कुत्ते को पीटने वाले को दो थप्पड़ लगाओ और तुरंत जेल भेजो। इस मामले में मुकदमा दर्ज कर आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं, कुशीनगर में भी कुत्ते को किसी ने हंसिया मार दी। एक समाजसेवी की मदद से नागपुर टीम ने आकर उसका इलाज किया।

सीतापुर में कुत्ते को डंडे से पीटा
सीतापुर के शहर कोतवाली क्षेत्र के ग्वाल मंडी में 18 जून को घर के बाहर उछल कूद कर रहे एक कुत्ते को यहां के निवासी रमेश वर्मा ने लाठी डंडों से पीटा। युवक घर के अंदर गया और कुछ देर बाद डंडा लेकर वापस आया और कुत्ते को पीट दिया। वह काफी देर तक डंडा लेकर वहीं खड़ा रहा। यह घटना सीसीटीवी में कैद हो गई।

पशु सेवा समिति के अध्यक्ष ने मेनका को दी जानकारी
सीतापुर के पशु सेवा समिति के अध्यक्ष विजय सेठ ने मेनका गांधी को कुत्ते की पिटाई के बारे में बताया तो मामले पर उन्होंने तुंरत संज्ञान लिया। उन्होंने कोतवाल से बात कराने के लिए कहा। इसके बाद विजय सेठ ने मेनका गांधी की इंस्पेक्टर से बात कराई। मेनका गांधी ने इंस्पेक्टर को सख्त लहजे में कार्रवाई करने के लिए कहा। इंस्पेक्टर का कहना है कि मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मामले में आरोपी युवक को गिरफ्तार कर कार्रवाई की जाएगी।

कुशीनगर में कुत्ते को हंसिया मारी
कुशीनगर के पडरौना नगर का है। एक कुत्ते को किसी ने हंसिया मार दिया। वह दर्द से तड़पता घूम रहा था। कुत्ते पर अतुल गुप्ता नाम के युवक की नजर पड़ी। अतुल ने महाराष्ट्र के नागपुर के एनजीओ केयर फाउंडेशन से संपर्क किया तो वहां से 2 लोगों को भेजा गया। कुत्ते का इलाज चल रहा है।

दस घंटे बाद पकड़ सके घायल कुत्ता
10 घंटे के रेस्क्यू के बाद देर रात स्टेशन के पास से आवारा कुत्ते को पकड़ लिया गया। महाराष्ट्र से आए 2 लोगों ने घायल कुत्ते को काबू में करने के बाद उसके शरीर में फंसे हंसिए को निकालने की कोशिश की। सफलता नहीं मिली तो फिर उसे पशु चिकित्सक के पास लेकर गए, जहां उसका इलाज चल रहा है।

अतुल ने दी एनजीओ को सूचना
महाराष्ट्र के चंद्रपुर से आए कुलेश्वर दामोदर महले ने बताया कि कुशीनगर के रहने वाले अतुल की सूचना पर हम लोग घायल कुत्ते का रेस्क्यू कर उसके पेट में लगी हंसिया को निकालने आए हैं। कुत्ते का हमने रेस्क्यू कर लिया है।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

कानपुर : पांडु नदी में कम नहीं हो रहा पानी, शहरी से लेकर ग्रामीणों की बढ़ रही परेशानी

कानपुर, 05 अगस्त (हि.स.)। शहर में भले ही दो दिन से बारिश कम हो रही …