बिहारः इस मीटिंग में आमने-सामने आए नीतीश और तेजस्वी, नहीं हुई कोई राजनीतिक चर्चा

मुख्यमंत्री चैंबर में सोमवार को बिहार मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष की नियुक्ति को लेकर बुलाई गई कमेटी की बैठक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और नेता विपक्ष तेजस्वी यादव शामिल हुए हैं. हालांकि इस दौरान कोई राजनीतिक चर्चा नहीं हुई. यह बैठक सीएम नीतीश कुमार के पुराने सचिवालय में हुई. बिहार के मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष की नियुक्ति को लेकर पांच सदस्यीय कमेटी की बैठक करीब 45 मिनट तक चली.

 

इस कमेटी में मुख्यमंत्री के अलावा में बिहार विधान सभा के अध्यक्ष विजय चौधरी, बिहार विधान परिषद के सभापति अवधेश नारायण सिंह, विधान सभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव और विधान परिषद में विपक्ष की नेता राबड़ी देवी सदस्य हैं. हालांकि स्वास्थ्य कारणों से राबड़ी देवी इस बैठक में शामिल नहीं हो पाईं.

 

बैठक में रिटायर्ड जस्टिस बिनोद कुमार सिन्हा के नाम का प्रस्ताव विजय चौधरी ने रखा जिस पर तेजस्वी यादव ने भी सहमति जता दी और सर्वसम्मति से मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष की नियुक्ति पर मुहर लग गई.

 

इसके बाद चाय पर चर्चा शुरू हुई लेकिन किसी तरह की राजनीतिक चर्चा नहीं हुई. कोरोना से निपटने को लेकर बाते हुईं, वहीं रेलवे ने 12 अगस्त तक जो ट्रेन रद्द करने का फैसला लिया इस पर भी अनौपचारिक रूप से बात हुई. इन चर्चा के दौरान तेजस्वी यादव ने ज़्यादा कुछ नहीं कहा और फिर बैठक खत्म हो गई.

Check Also

बिहार के दो अलग-अलग जिलों में डूबने से हुई 7 बच्चों की मौत, मच गया कोहराम

पटना: बिहार में दो अलग-अलग जिलों में नदी में नहाने के दौरान डूबने से 7 बच्चों की …