बाॅडी वैक्सिंग के बारे में जानकारी

बॉडी वैक्सिंग के मुख्य फायदे

4 से 8 सप्ताह के बाद बाल वापस उगते हैं हम एक साथ कई बाल हटाते हैं बाल वापस महीन हो जाते हैं जलन कम होती है यह एक किफायती विधि है जो बहुत अच्छी तरह से काम करती है दो उपसंहारों के बीच, त्वचा को ठीक होने में समय लगता है, बाल भी रेजर के साथ कटे बिना फिर से बढ़ने का समय होता है।

बॉडी वैक्सिंग कराने या करने के नुकसान

यह दर्दनाक है, हालांकि जितना अधिक आप इसे अभ्यास करते हैं उतना ही कम है यह तब तक इंतजार करना आवश्यक है जब तक कि एपिलेशन ठीक से किए जाने के लिए बाल पर्याप्त रूप से विकसित न हों मोम के अनुचित आवेदन से अनचाहे बाल उग सकते हैं और संक्रमण का खतरा होता है।संवेदनशील त्वचा पर, मोम को हटाने की क्रिया के कारण मोम का अनुप्रयोग भड़क सकता है। बॉडी वैक्सिंग से पहले पालन करने की सिफारिशें।
हर 15 दिनों में त्वचा को एक्सफोलिएट करें ताकि बालों को अच्छी तरह से विकसित किया जा सके और अंतर्वर्धित बालों से बचा जा सके। बॉडी वैक्सिंग करते समय साफ और सूखी त्वचा रखें, बॉडी वैक्सिंग से पहले टैल्कम पाउडर का उपयोग करने की सलाह दी जाती है, खासकर जब यह गर्म हो।
तो यह है सम्पूर्ण जानकारी जो आपको भी बााॅॅॅॅडी वैक्सिंग के बारे में आवश्यक साबित होगा.

वैक्स के हैं टाइप

वैक्सिंग और दर्द एक ही सिक्के के दो पहलू माने जाते हैं। मगर आप अपने दिल से ये बात बिलकुल निकाल दीजिए। क्योंकि ऐसा बिलकुल नहीं है कि वैक्स कराने से दर्द होगा ही।

अलग-अलग वैक्स के अलग-अलग असर होते हैं। आपने हार्ड वैक्स का चुनाव किया है या सॉफ्ट वैक्स का, असर भी इसी हिसाब से होगा। जैसे हार्ड वैक्स में बहुत दर्द नहीं होता है तो सॉफ्ट वैक्स में दर्द होने की पोसिबिलिटी ज्यादा होती है।

पर हां, बहुत बारीकी से वैक्सिंग कराने के लिए सॉफ्ट वैक्स ही अच्छा ऑप्शन माना जाता है। वैक्सिंग के इस तरीके में बहुत छोटे से छोटा बाल भी निकल जाता है। पर बहुत ज्यादा बाल हैं तो हार्ड वैक्स आपको पर्फेक्ट रिजल्ट देता है। वैक्सिंग घर पर कर रहे हों या फिर सैलून में ये बात जरूर जान लें कि वैक्स कौन सी इस्तेमाल की जा रही है।

Check Also

मोटापे से बचने के लिए 1 दिन में खाएं कितना चावल, ऐसे खाएंगे तो बिल्कुल नहीं बढ़ेगा वजन

वजन घटाने के लिए अक्सर लोग डाइटिंग (Dieting) करते हैं और खाना पीना कम कर …