बाथरूम से बाहर निकलते ही दिखा ऐसा नजारा, सपेरा बुलाया तो घर के अंदर से निकले 34 छोटे-बड़े सांप

दरभंगा। जान का डर हर किसी को होता है, चाहे वो इंसान हो या जहरीला सांप। जान के डर से ही सांप इंसानों से दूर रहता है। लेकिन कई बार ऐसा होता है कि सांप अपने निवास से बाहर निकल आता है। बाहर में सांप को देखकर लोग डर के मारे या तो उसे मार देते हैं या फिर सपेरा बुलवा कर सांपों को घर से दूर जंगल-झाड़ में छुड़वा देते हैं। सांपों के डर की एक ताजा कहानी बिहार के दरभंगा जिले से सामने आई है। जहां एक घर से सपेरे ने 34 छोटे-बड़े सांपों को पकड़ा। बताया जाता है कि घर का मालिक अपने बाथरुम में नहा रहा था, तभी एक सपोला उसके पांव में लिपटा।

घर के फर्श पर टहल रहे थे कई सपोले
बाथरुम में पैर में सांप को निकलते ही डर के मारे उस शख्स की चीख निकल गई। डर के मारे वो झट से बाथरुम से बाहर निकला। लेकिन बाहर निकलते ही जो नजारा उसके सामने दिखा वो और डरावना था। घर में इधर-उधर कई सांप के बच्चे टहल रहे थे।  एक साथ कई सांपों को देख गृह स्वामी विनय झा के होश उड़ गए। वो तुरंत बाहर निकले और पड़ोसियों को मामले की सूचना दी। जिसके बाद पड़ोसियों के कहने पर विनय ने एक सपेरे को बुलाया। सपेरे ने विनय के घर से एक साथ 34 छोटे-बड़े सांपों को निकाला।

मामला दरभंगा के लाल बाग मोहल्ले का
ये मामला दरभंगा के लाल बाग मोहल्ले का है। मामले की सूचना पर बड़ी संख्या में स्थानीय लोग वहां जुट गए। बताया जाता है कि विनय के घर के आंगन में काफी दिनों से टाइल्स के टुकड़े रखे गए थे। इन टुकड़ों के पीछे एक सांप काफी दिनों से रह रहा था। बीते दिनों इस सांप ने कई बच्चों को जन्म दिया। जो अचानक टाइल्स से निकलकर घर  के फर्श पर टहलने लगे। सपेरे ने विनय के घर से सभी सांपों को पकड़ कर लिया। जिसके  बाद विनय के साथ-साथ आस-पास के लोगों ने राहत की सांस ली।

Check Also

धान की भूसी से खाना पकाने वाला चूल्हा बना, इंजीनियर्स ने माना-हर मौसम में है कारगर

पटना (Bihar) । पूर्वी चम्पारण जिले के मोतिहारी के रहने वाले अशोक ठाकुर ने भूसी से …