Home / देश / बलिया में दूषित पानी पीने से एक बच्ची की मौत, 50 से अधिक बच्चे बीमार

बलिया में दूषित पानी पीने से एक बच्ची की मौत, 50 से अधिक बच्चे बीमार

बलिया :  रसड़ा कोतवाली क्षेत्र के नागपुर गांव में दूषित पानी पीने से डायरिया का प्रकोप हो गया है। शुक्रवार को एक बच्ची की मौत हो गई जबकि करीब 50 से अधिक बच्चे बीमार हो गए हैं। करीब 30 बच्चों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र व जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव में कैम्प कर रही है।
रसड़ा के नागपुर गांव में जल निगम की पानी टंकी से पेयजल की आपूर्ति होती है। जल निगम की सप्लाई पाइप कुछ जगहों पर फट गई है जिसके कारण गांव में दूषित पानी की सप्लाई हो गई। दूषित पानी पीने से गुरुवार की रात अचानक कई लोग बीमार होने लगे। उल्टी व दस्त की शिकायत के बाद लोगों को सीएचसी रसड़ा ले जाया गया। सीएमओ प्रीतम कुमार ने रात में ही गांव पहुंच कर बीमार लोगों के त्वरित इलाज का निर्देश दिया। शुक्रवार सुबह डायरिया की चपेट में कई और लोग आ गए जिन्हें सीएचसी रसड़ा ले जाया गया जहां पूजा (10) की मौत हो गई। कई अन्य की हालात गंभीर देख सीएचसी के चिकित्सकों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया जहां 14 लोगों का उपचार जारी है। करीब इतने ही लोग रसड़ा सीएचसी में भर्ती हैं। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में बताई जा रही है। दूषित पानी पीने से बीमार होने वालों में श्याम कुमारी ( 35), राज (5), कंचन (18), अंकित (6), आरती (11), सुमन (5), अभिषेक (15), निर्मला (5), संगीता (15), शनि (5), प्रिंस (5), लीलावती (65), ज्योति (10), पवन (10) व लक्ष्मी (14) शामिल हैं।
उधर, प्रीतम कुमार शुक्रवार नागपुर गांव में मोबाइल मेडिकल टीम लेकर पहुंचे। डॉ. वीरेंद्र कुमार के नेतृत्व में मेडिकल टीम गांव में कैम्प कर रही है। उन्होंने बताया कि नागपुर गांव में जलनिगम का पाइप कुछ जगहों पर फट गया है। साथ ही यहां इंडिया मार्का हैंडपंप भी नहीं है जबकि भारी बारिश से भूमिगत जल का स्तर काफी ऊपर आ गया है। गांव में लोगों ने दूषित पानी पी लिया जिससे लोग बीमार हुए। उन्होंने बताया कि पूजा नाम की बालिका की मौत अत्यधिक उल्टी करने से हुई है। सीएमओ ने कहा कि एसडीएम रसड़ा को सूचित कर दिया गया है। गांव में लोगों को किसी भी नल का पानी नहीं पीने को कहा गया है। साफ पानी का टैंकर मंगाया गया है। पानी में क्लोरीन की गोली डालकर पीने की सलाह दी जा रही है। साथ ही पानी को उबालकर पीने के प्रति भी मेडिकल टीम जागरूक कर रही है। फिलहाल गांव में स्थिति नियंत्रण में है। एहतियातन तीन एम्बुलेंस तैनात की गई हैं।
Loading...

Check Also

अंग्रेजों और वामपंथी इतिहासकारों को कोसने के बजाय नये सिरे से इतिहास लिखें: अमित शाह

वाराणसी :  गृह मंत्री अमित शाह ने देश के इतिहास को नये सिरे से संजोने ...