बढ़े ईंधन के दाम, इन शहरों में पेट्रोल 100 रुपये प्रति लीटर के पार

 

 

 

मुंबई के बाद हैदराबाद दूसरा महानगर हो गया है, जहां पेट्रोल के दाम 100 रुपये प्रति लीटर के पार निकल गए हैं। वाहन ईंधन की कीमतों में सोमवार को फिर बढ़ोतरी हुई। सार्वजनिक क्षेत्र की पेट्रोलियम कंपनियों की मूल्य अधिसूचना के अनुसार पेट्रोल के दाम 29 पैसे प्रति लीटर और डीजल के 30 पैसे प्रति लीटर और बढ़ाए गए हैं। पिछले छह सप्ताह में वाहन ईंधन कीमतों में यह 24वीं बढ़ोतरी है। इससे देश में पेट्रोल और डीजल के दाम ऐतिहासिक उच्चस्तर पर पहुंच गए हैं।

तेलंगाना के कई राज्यों में पेट्रोल के दाम 100 रुपये
राजधानी दिल्ली में पेट्रोल अपने सर्वकालिक उच्चस्तर 96.41 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया है। वहीं डीजल 87.28 रुपये प्रति लीटर पर है। मूल्य र्विधत कर (वैट) और ढुलाई भाड़े की वजह से विभिन्न राज्यों में ईंधन के दाम भिन्न-भिन्न होते हैं। इसी वजह से अब सात राज्यों और संघ शासित प्रदेशों राजस्थान, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक और लद्दाख में पेट्रोल का खुदरा दाम 100 रुपये प्रति लीटर के पार हो गया है। तेलंगाना के कई राज्यों में पेट्रोल इसी महीने पहले ही 100 रुपये प्रति लीटर को छू गया था। राज्य की राजधानी हैदराबाद में पेट्रोल सोमवार को 100 रुपये के आंकड़े को पार कर गया।

मुंबई में पेट्रोल 102.58 रुपये
हैदराबाद में अब पेट्रोल 100.20 रुपये प्रति लीटर और डीजल 95.14 रुपये प्रति लीटर है। हैदराबाद दूसरा महानगर है जहां पेट्रोल 100 रुपये प्रति लीटर के पार निकला है। मुंबई में 29 मई को पेट्रोल 100 रुपये प्रति लीटर के पार हुआ था। इस समय मुंबई में पेट्रोल 102.58 रुपये प्रति लीटर और डीजल 94.70 रुपये प्रति लीटर पर बिक रहा है। राजस्थान का श्रीगंगानगर देश का पहला जिला था जहां पेट्रोल सबसे पहले 100 रुपये प्रति लीटर के पार हुआ था। फरवरी के मध्य में वहां पेट्रोल 100 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया था।

प्रीमियम पेट्रोल 110.81 रुपये प्रति लीटर
शनिवार को श्रीगंगानगर में डीजल भी 100 रुपये प्रति लीटर के पार निकल गया। अब शहर में पेट्रोल 107.53 रुपये प्रति लीटर और डीजल 100.37 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। वहां प्रीमियम पेट्रोल 110.81 रुपये प्रति लीटर और इसी ग्रेड का डीजल 104.03 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। राजस्थान में पेट्रोल और डीजल पर सबसे अधिक वैट लगाया जाता है। उसके बाद मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना का नंबर आता है।

Check Also

जुलाई में जीएसटी कलेक्शन 1.16 लाख करोड़ रुपये के पार

            नई दिल्ली जुलाई 2021 में कुल जीएसटी राजस्व 1,16,393 करोड़ रुपये रहा है। …