फ्लिपकार्ट और अमेजन को नोटिस

नई दिल्ली : सरकार ने ई-वाणिज्य कंपनियों के मंच से बिकने वाले सामानों पर उनके मूल उत्पत्ति वाले देश की जानकारी तथा अन्य जरूरी सूचनायें नहीं दिए जाने पर फ्लिपकार्ट तथा अमेजन को नोटिस जारी किया। ये नोटिस उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं जन वितरण मंत्रालय के तहत आने वाले उपभोक्ता मामलों के विभाग द्वारा जारी किए गए। इस बारे में दोनों कंपनियों से कोई टिप्पणी नहीं मिल पाई है। विभाग ने सभी ई-वाणिज्य कंपनियों से लीगल मेट्रोलॉजी (पैकेज्ड कमोडिटीज) रूल्स, 2011 का अनुपालन सुनिश्चित करने को कहा है।

 

दोनों कंपनियों से 15 दिन के भीतर नोटिस का जवाब देने को कहा गया है। कंपनियों को एक जैसे शब्दों वाले इस नोटिस में कहा गया है, यह पाया गया कि कुछ ई-वाणिज्य कंपनियां अपने डिजिटल मंच से बिकने वाले उत्पादों पर जरूरी जानकारी नहीं दे रही हैं जबकि यह लीगल मेट्रोलॉजी (पैकेज्ड कमोडिटीज) रूल्स 2011 के तहत जरूरी है। फ्लिपकार्ट . और अमेजन को भेजे गए नोटिस के अनुसार वे ई-वाणिज्य इकाइयां हैं और इसीलिए उन्हें यह सुनिश्चित करना है कि ई-वाणिज्य सौदों के लिए उपयोग होने वाले डिजिटल और इलेक्ट्रॉनिक नेटवर्क पर सभी जरूरी जानकारी दी जाए।

Check Also

जिओ की इन्टरनेट स्पीड बढ़ाये तीन गुना ,बस चेंज कर दे अपने एंड्राइड फ़ोन की ये सेटिंग

जब से भारत में जिओ लांच हुआ है तब से तो मनो इन्टरनेट की दुनिया …