फिलहाल जारी नहीं होगा प्रथम चरण की सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं का रिजल्ट

नई दिल्ली, 26 जनवरी (आईएएनएस) 10वीं एवं 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा और रिजल्ट को लेकर कथित तौर पर सीबीएसई का एक नोटिस छात्रों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है। इस नोटिस में 10वीं, 12वीं बोर्ड के लिए ली गई प्रथम चरण की परीक्षा का रिजल्ट घोषित किए जाने की बात कही गई है। यह नोटिस सीबीएसई के संज्ञान में भी आया है। इस नोटिस का पता लगने पर सीबीएसई ने बताया कि उनके द्वारा ऐसा कोई नोटिस जारी नहीं किया गया है और यह नोटिस पूरी तरह से फर्जी है।

10वीं एवं 12वीं कक्षा के लिए सीबीएसई बोर्ड के प्रथम चरण की बोर्ड परीक्षाएं ली जा चुकी है। फिलहाल छात्र इन परीक्षाओं के परिणाम का इंतजार कर रहे हैं। इस बीच विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्म और वेबसाइट पर 10वीं एवं 12वीं की बोर्ड परीक्षा का रिजल्ट जारी करने को लेकर जानकारियां साझा की गई हैं। सीबीएसई ने इन जानकारियों का औपचारिक तौर पर खंडन किया है।

सीबीएसई बोर्ड का कहना है कि अभी प्रथम चरण की परीक्षा का परिणाम घोषित करने का कोई तारीख घोषित नहीं की गई है। बोर्ड परीक्षा का परिणाम घोषित किए जाने की जो तारीख सोशल मीडिया पर बताई जा रही है वह पूरी तरह से फर्जी है। छात्रों के बीच भ्रम की स्थिति तब उत्पन्न हुई जब अचानक सोशल मीडिया पर यह फर्जी नोटिस शेयर किया गया।

इस नोटिस में यह कहा गया कि 25 जनवरी के बाद सीबीएसई द्वारा ली गई प्रथम चरण की बोर्ड परीक्षाओं का रिजल्ट घोषित किया जाएगा। हालांकि अब सीबीएसई ने सोशल मीडिया पर फैलाई जा रहे इस झूठ का जवाब सोशल मीडिया के माध्यम से ही दिया है। सीबीएसई बोर्ड ने अपने ट्विटर हैंडल पर जानकारी देते हुए इस नोटिस को फर्जी बताया है। जिससे छात्रों के बीच जा रही गलत जानकारी पर विराम लग गया है।

सीबीएसई बोर्ड ने छात्रों को सलाह दी है कि सटीक जानकारी के लिए छात्र केवल सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट पर जारी किए गए नोटिस पर ही भरोसा करें। गौरतलब है कि इस वर्ष सीबीएसई ने 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को दो चरणों में लेने का फैसला किया है।

पहले चरण की परीक्षाएं नवंबर दिसंबर महीने के दौरान ली जा चुकी हैं। वहीं दूसरे चरण की परीक्षाएं इस वर्ष मार्च-अप्रैल में शेड्यूल हैं। सीबीएसई दूसरे चरण की परीक्षाओं के लिए सैंपल क्वेश्चन पेपर जारी कर चुका है। हालांकि अभी तक पहले चरण की परीक्षाओं के परिणाम को लेकर कोई आधिकारिक तिथि घोषित नहीं की गई है।

देश में कोरोना की तीसरी लहर के बीच कई परीक्षाएं स्थगित और कुछ परीक्षाएं रद्द करनी पड़ी है, लेकिन सीबीएसई बोर्ड और शिक्षा मंत्रालय 10वीं एवं 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं तय समय पर आयोजित करवाने के पक्ष में है। यदि किसी कारणवश परीक्षाएं नहीं ली जा सकीं तो केवल ऐसी स्थिति में पहले चरण की परीक्षाओं के आधार पर 10वीं एवं 12वीं कक्षा के नतीजों की घोषणा की जाएगी।

हालांकि परीक्षा रद्द होने की संभावना कम है। फिलहाल विशेषज्ञों का मानना यही है कि कोरोना की तीसरी लहर बीत जाने के उपरांत देशभर में लाखों छात्रों के लिए 10वीं एवं 12वीं कक्षा की सीबीएसई बोर्ड परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी। मार्च-अप्रैल में होने वाली दूसरे चरण की परीक्षा की अवधि 2 घंटे की होगी और इसमें पूछें जाने वाले सभी प्रश्न सब्जेक्टिव टाइप के होंगे।

Check Also

CUET 2022 आवेदन सुधार विंडो अब खुली , यहां देखें कि परिवर्तन कैसे करें

CUET 2022: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (CUET) UG 2022 के लिए …