फिर जंग की आशंका:इजराइली खुफिया एजेंसी का सीक्रेट ऑपरेशन; 3 फिलीस्तीनी मार गिराए- इनमें से दो इंटेलिजेंस ऑफिसर थे

 

इजराइली ऑपरेशन में मारे गए लोगों का गुरुवार को जनाजा निकाला गया। इस दौरान हजारों लोग मौजूद थे। - Dainik Bhaskar

इजराइली ऑपरेशन में मारे गए लोगों का गुरुवार को जनाजा निकाला गया। इस दौरान हजारों लोग मौजूद थे।

इजराइल और फिलीस्तीन के बीच एक बार फिर तनाव बढ़ गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इजराइल सेना और खुफिया एजेंसी ने एक सीक्रेट ऑपरेशन किया है। इसमें 3 फिलीस्तीनी मारे गए हैं। इनमें से दो इंटेलिजेंस ऑफिसर थे। यह ऑपरेशन इजराइल के कब्जे वाले वेस्ट बैंक के शहर जेनिन में बुधवार और गुरुवार की दरमियानी रात किया गया। अब तक हमास ने इस घटना पर कोई बयान नहीं दिया है। अगर मारे गए अफसरों में से कोई उसका मेंबर हुआ तो वह जवाबी कार्रवाई की कोशिश करेगा और इससे दोबारा जंग का खतरा बढ़ जाएगा।

कौन हैं मारे गए लोग
‘अल जजीरा’ टीवी चैनल के मुताबिक, मारे गए लोगों की संख्या तीन से ज्यादा हो सकती है। अब तक तीन मरने वाले वालों के नाम सामने आए हैं। इनमें से दो फिलीस्तीन अथॉरिटी के मिलिट्री इंटेलिजेंस ऑफिसर्स थे। इनके नाम यासिल अलावी और तासीर इसा हैं। तीसरे का नाम जमील है। इसके अलावा एक अफसर गंभीर रूप से घायल है। इस घटना का एक वीडियो भी सामने आने का दावा किया जा रहा है।

सिविलियन व्हीकल इस्तेमाल हुए
रिपोर्ट के मुताबिक, इजराइली एजेंसियों ने ऑपरेशन के लिए मिलिट्री व्हीकल के बजाए सिविलियन व्हीकल्स का इस्तेमाल किया। हमला तब किया गया जब फिलीस्तीनी जासूस और कुछ सैनिक एक गाड़ी में किसी मिशन के लिए निकल रहे थे।

गुरुवार को मारे गए लोगों का जनाजा निकाला गया। इसमें हजारों लोग शामिल हुए। फिलीस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास के प्रवक्ता ने कहा- इजराइल का यह कदम इस इलाके के लिए बेहद खतरनाक साबित हो सकता है। इजराइल की खुफिया एजेंसियां लगातार ऑपरेशन्स कर रही हैं।

हमास से जुड़ी दो खबरें
इजराइल के वेस्ट बैंक में किए गए ऑपरेशन पर हमास ने अब तक खुलकर कुछ नहीं कहा है। उसके एक प्रवक्ता ने कहा- फिलीस्तीनी सरकार इजराइल को हमारे बारे में सूचनाएं देकर गाजा के लड़ाकों को नुकसान पहुंचा रही है।

उधर, हमास के एक मिलिट्री कमांडर बुधवार को अल जजीरा चैनल के दफ्तर पहुंचे। यहां उन्होंने हालिया जंग में साथ देने के लिए अल जजीरा टीम को एक अवॉर्ड दिया।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

मेहुल चौकसी अभी भी एक भारतीय नागरिक : भारतीय प्रशासन

नई दिल्ली : भारतीय अधिकारियों ने डोमिनिका हाईकोर्ट में दायर अपने हलफनामे में कहा है …