प्रवासी श्रमिकों को 15 दिनों का राशन और 1 हजार रुपये भत्ता देगी योगी सरकार

लखनऊ: यूपी में लौटने वाले प्रवासी मजदूरों को 15 दिन का राशन और 1 हजार रुपये भत्ता दिया जाएगा. योगी सरकार ने इसके लिए अधिकारियों को निर्देश दिए हैं. अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने एक प्रेस वार्ता में बताया कि सीएम योगी ने सभी प्रवासी श्रमिकों को 15 दिन के खाद्यान्न के साथ-साथ उन्हें नियमित तौर पर खाद्यान्न उपलब्ध कराने के लिए उनका राशन कार्ड बनवाए जाने के आदेश दिए हैं. साथ ही घर में क्वारंटीन के दौरान श्रमिकों को 1 हजार रुपये बतौर भत्ता राशि देने का भी आदेश दिया गया है.

 

’20 लाख से ज्यादा प्रवासी श्रमिक और कामगार लौटे प्रदेश’
अवनीश अवस्थी ने जानकारी देते हुए बताया कि अब तक प्रदेश में 20 लाख से अधिक प्रवासी श्रमिक और कामगार ट्रेनों और बसों के माध्यम से प्रदेश में लौट चुके है. उन्होंने बताया कि प्रदेश की 46103 ग्राम पंचायतों में बने क्वारंटीन सेंटरों के माध्यम से 16 लाख 8 हजार 184 श्रमिक गए है.

 

इसी तरह नगरीय क्षेत्र के 6202 मोहल्लों में बने पृथक केन्द्रों के माध्यम से दो लाख 24 हजार 639 लोग गए है और इस तरह प्रदेश में कुल 18 लाख 24 हजार लोग पृथक केन्द्रों के माध्यम से गए है.

 

अभी भी 100 ट्रेनें रोजाना यूपी आ रही है. ऐसे में प्रवासियों का प्रदेश में आने का सिलसिला अभी जारी है. अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि प्रवासी कामगारों और श्रमिकों की सकुशल वापसी के साथ ही उन्हें क्वारंटीन सेंटर में सुरक्षित ले जाएं.

Check Also

शाकिब ने अमन बनकर गर्लफ्रेंड बनाई, खुलासा हुआ तो पंजाब से मेरठ लाकर मार डाला

यूपी की मेरठ पुलिस ने बिना सिर और हाथ के मिली लाश का एक साल बाद सनसनीखेज …