पृथ्वी और रफाल का डबल अटैक तोड़ेगा दुश्मन का दंभ, जानिए क्या है तैयारी

नई दिल्ली :  देश की सीमा (LAC) पर चीन (China) से तनाव के बीच भारत (India) ने पृथ्वी-2 मिसाइल (Praithvi-2) का रात्रि परीक्षण सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है. परमाणु हथियार (Nuclear weapons) ले जाने में सक्ष्म पृथ्वी 2 का कामयाब परीक्षण शुक्रवार शाम साढ़े 7 बजे हुआ.

दूसरा कामयाब परीक्षण
250 किलोमीटर से ज्यादा स्ट्राइक रेंज वाली पृथ्वी-2 का परीक्षण ओडिशा के बालासोर तट पर हुआ. रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (Defence Research and Development Organisation) द्वारा विकसित बैलेस्टिक मिसाइल ( Ballistic missile) देश की स्ट्रैटेजिक फोर्स कमांड (Strategic Forces Command) का हिस्सा है.

आपको बता दें कि पिछले महीने 23 सितंबर की शाम को भी ओडिशा के बालासोर तट पर ही इस मिसाइल का रात्रि परीक्षण किया गया था. वह परीक्षण भी कामयाब रहा था. उस वक्त भी मिसाइल सभी मानकों पर खरी उतरी थी. आपको बता दें कि प्रथ्वी-2 सतह से सतह (Surface-to-surface missile) पर मार करने वाली मिसाइल है.

भारतीय सेना का ब्रहास्त्र
वहीं सीमा पर चीन के साथ जारी तनाव के बीच इंडियन एयर फोर्स को जल्द ही राफेल लड़ाकू विमानों की दूसरी खेप मिलने वाली है.करीब 3-4 राफेल फाइटर जेट नवंबर के पहले हफ्ते में हरियाणा स्थित एयर फोर्स के अंबाला बेस पहुंचेंगे. 5 राफेल लड़ाकू विमानों की पहली खेप 29 जुलाई को भारत आ चुकी है. और तभी से देश के दुश्मन ड्रैगन और उसके नापाक साथी की धड़कने बढ़ गई हैं.

Check Also

शासन-प्रशासन की अनदेखी से परेशान खिलाड़ी खुद कर रहे ग्राउंड में घास की कटाई

खिलाड़ी ही घास हटाने का काम कर रहे हैं। रोज गांधी ग्राउंड में प्रैक्टिस करने …