पायल ने राष्ट्रपति से अनुराग के खिलाफ यौन शोषण केस में दखल देने कहा, बोलीं आरोपी बहुत प्रभावशाली है, जांच में कोई डेवलपमेंट नहीं हो रहा

 

एक्ट्रेस पायल घोष ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को खत लिखकर अनुराग कश्यप के खिलाफ किए गए अपने केस में दखल देने की मांग की है। पायल ने सोमवार को इस खत की कॉपी अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर की। इसमें पायल ने कहा कि अनुराग के खिलाफ केस की जांच सही तरीके से नहीं की जा रही है। उन्होंने राष्ट्रपति से न्याय की मांग की और कहा कि इस केस में उन्हें हस्तक्षेप करना चाहिए।

आरोपी खुलेआम घूम रहा, मैं दर-दर भटक रही

खत में पायल ने लिखा- मैं एक पीड़िता हूं और मैंने वर्सोवा पुलिस स्टेशन में रेप का केस दर्ज करवाया है। आरोपी ने मुझे फिल्म इंडस्ट्री में कुछ काम देने की बात कहकर अपने घर पर बुलाया था। उसके बाद उसने मेरे साथ जघन्य अपराध किया। मैंने 22 सितंबर को पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करवाई थी, लेकिन अभी तक जांच में कोई प्रगति नहीं हुई है। आरोपी बेहद प्रभावशाली व्यक्ति है और इसीलिए पुलिस अधिकारी उसे गिरफ्तार नहीं कर रहे हैं। मैं कहना चाहती हूं कि जिन अपराधों का जिक्र मैंने किया है, उन्हें कोई गरीब आदमी अंजाम देता तो उसे तुरंत गिरफ्तार कर लिया जाता। पुलिस उसे उसी दिन गिरफ्तार कर लेती। लेकिन, मेरे मामले में आरोपी प्रभावशाली है और वो खुलेआम घूम रहा है। और, एक पीड़ित होने के बावजूद मैं हाथ जोड़कर न्याय के लिए हर दरवाजा खटखटा रही हूं। इन हालात में मैं आपने निवेदन करती हूं कि मेरे केस में हस्तक्षेप करें और मुझे न्याय दिलाने में मेरी मदद करें।

मानहानि केस में खास शर्तों पर माफी मांगेंगी पायल

उधर, पायल के खिलाफ मानहानि के मामले में उनके वकील ने आज हाईकोर्ट में अपना जवाब पेश किया। यह केस रिचा चड्ढा ने दायर किया है। पायल के वकील ने कहा कि एक्ट्रेस खास शर्तों पर ही रिचा से माफी मांगने को तैयार हैं। इससे पहले पायल के वकील ने कहा था कि वो माफी मांगने को तैयार हैं। पर पायल ने इसी दिन ट्विटर पर इस बात से इनकार कर दिया था।

 

Check Also

KBC 12: क्या आईएएफ अधिकारी की पत्नी Chhavi Kumar दे पाएंगी 1 करोड़ रुपये के सवाल का जवाब?

नई दिल्लीः ‘केबीसी 12’ (KBC 12) को बड़ी संख्या में लोग देख रहे हैं. ‘केबीसी’ के …