पाकिस्तान प्लेन क्रैश में जिंदा बचे एक शख्स का है इंडिया कनेक्शन, वो भी यूपी के अमरोहा से

पाकिस्तान के कराची में हुए शुक्रवार को विमान हादसे में कम से कम 97 लोगों की मौत हो गई और दो लोग किसी तरह जिंदा बचने में सफल रहे। इनमें से एक जिंदा बचे शख्स का भारत से कनेक्शन है। बैंक ऑफ पंजाब के टॉप एग्जीक्यूटिव जफर मसूद भी इस फ्लाइट में थे, जो घायल हुए हैं। उनकी पुश्तैनी पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अमरोहा में है और वह ‘पाकीज़ा’ फेम कमाल अमरोही के परिवार से ताल्लुकात रखते हैं।

दरअसल, कराची हवाई अड्डे के पास लैडिंग से ठीक पहले दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसमें 90 से ज्यादा लोग मारे गए थे। इसी विमान में जफर मसूद भी सफर कर रहे थे, जो इस हादसे में बचने वाले दो लोगों में से एक हैं। इन्हें कूल्हे और कॉलर की हड्डी पर चोटें आईं हैं।

जफर मसूद का परिवार 1952 में पाकिस्तान चला गया था। भारत में उनके रिश्तेदार आदिल जफर ने बताया। मुंबई में डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म बनाने वाले आदिल जफर मसूद की मां के पहले चचेरे भाई हैं। आदिल जफर ने कहा कि वह 2015 में कराची में मसूद से मिले थे और मसूद भारत को काफी पसंद करते हैं और अपने पैतृक घर को देखने के लिए अमरोहा जाना चाहते रहे हैं।

जफर मसूद की मां का संबंध कमाल अमरोही से सीधे तौर पर है, क्योंकि उनके नाना तकी अमरोही, जो पाकिस्तान में एक पत्रकार थे, ‘पाकीज़ा’ फिल्म निर्माता के चचेरे भाई थे। मसूद का परिवार अमरोहा के सद्दो मोहल्ले से संबंध रखता है। उनके दादा मसूद हसन वकील थे और उनके पिता मुन्नवर सईद पाकिस्तान में टीवी कलाकार थे।

मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि विमान की चपेट में आने से कई मकान तबाह हो गए हैं। कम से कम चार मकानों के पूरी तरह से ध्वस्त हो जाने की सूचना मिली है। मकानों के बाहर खड़ी कई गाड़ियां भी आग के गोले में बदल गए विमान की चपेट में आने से खाक में मिल गईं। इस घटना का सीसीटीवी फुटेज सामने आया है, जिसमें देखा जा सकता है कि कैसे विमान रिहायशी इलाकों में गिरता है और बड़ा धमाका होता है।

 

‘एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ की रिपोर्ट में कहा गया है कि यह विमान, ए32० एयरबस, चीन से लीज पर लिया गया था। अधिकारियों ने दावा किया है कि विमान में कोई खराबी पहले सामने नहीं आई थी। प्रधानमंत्री इमरान खान ने हादसे की तत्काल जांच का आदेश दिया है। बता दें कि इस दिल दहलाने वाले हादसे पर भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई देशों के नेताओं ने दुख व्यक्त किया है।

Check Also

नई मुसीबत में फंस गए ट्रंप, एक्सपर्ट डॉ. वेदप्रताप वैदिक ने बताई इसके पीछे की वजह

वरिष्ठ पत्रकार और विदेश मामलों के जानकार डॉ. वेदप्रताप वैदिक ने लिखा कि अजीब मुसीबत में …