पश्चिम रेलवे ने 84 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों का परिचालन कर  7420 टन से अधिक लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन का परिवहन किया

 पश्चिम रेलवे ने अब तक 84 आक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनें चलायी है और इन ट्रेनों में 399 टैंकरों के जरिये लगभग 7420 लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन का परिवहन किया गया है। जल्द से जल्द अपने गंतव्य स्थलों तक पहुंचने के लिए इन्हें सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर निर्बाध पथ पर चलाया जा रहा है। राजकोट मंडल में हापा से 41 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनें  दिल्ली, गुड़गांव, कलंबोली, कनकपुरा और कोटा के लिए चलाई गईं तथा 223 टैंकरों के जरिये 4227.25 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन का परिवहन किया गया, जबकि 28 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनें कानालुस से बैंगलोर, गुंटूर, कनकपुरा, ओखला और सनतनगर के लिए चलाई गईं तथा 136 टैंकरों के जरिये 2542.15 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन का परिवहन किया गया।

अहमदाबाद मंडल में मुंद्रा पोर्ट से पाटली, सनतनगर और तुगलकाबाद के लिए 7 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनें/कंटेनर चलाई गईं तथा 24 टैंकरों के जरिये 421 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन का परिवहन किया गया। इसी तरह, 8 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनें भटिंडा और दिल्ली के लिए चलाई गईं, जिनमें से 5 ट्रेनें वडोदरा से चलाई गईं तथा 10 टैंकरों के जरिये 157.75 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन का परिवहन किया गया जबकि 3 ट्रेनें हजीरा पोर्ट से चलाई गईं तथा 6 टैंकरों के जरिये 72.64 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन का परिवहन किया गया  से चलाई गईं।8 जून, 2021 तक भारतीय रेल द्वारा विभिन्न राज्यों को 1603 टैंकरों के जरिये 27600 मीट्रिक टन से अधिक लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन  भेजी जा  चुकी है।

Check Also

लगी रही कतारें:डिपुओं पर सुबह नहीं चला सर्वर, बिना राशन लौटे कई

  सर्वर ना चलने से डिपो के बाहर खड़े परेशान हो रहे उपभाेक्ता। दिनभर आती …