पर्ल वी पुरी केस:रेप पीड़िता की मां ने बताई चुप्पी साधे रहने के पीछे की वजह, दिव्या खोसला ने पूछा- पर्ल की मां को कुछ हो गया तो कौन जिम्मेदार होगा?

पर्ल वी पुरी और दिव्या खोसला कुमार ने म्यूजिक वीडियो 'तेरी आंखो में' में साथ काम किया है। - Dainik Bhaskar

पर्ल वी पुरी और दिव्या खोसला कुमार ने म्यूजिक वीडियो ‘तेरी आंखो में’ में साथ काम किया है।

पिछले सप्ताह ‘नागिन 3’ और ‘बेपनाह प्यार’ सीरियल्स के अभिनेता पर्ल वी. पुरी को नाबालिग लड़की से रेप के मामले में गिरफ्तार किया गया। अब पूरे मामले में पीड़िता की मां ने आधिकारिक बयान जारी किया है और अपनी चुप्पी के पीछे की वजह उजागर की है। पीड़िता की मां खुद भी प्रोफेशन से एक्ट्रेस हैं और पर्ल के साथ ‘ब्रह्मराक्षस 2’ में काम कर चुकी हैं।

रेप पीड़िता की मां की सोशल मीडिया पोस्ट।

रेप पीड़िता की मां की सोशल मीडिया पोस्ट।

क्या लिखा एक्ट्रेस ने अपनी पोस्ट में?
एक्ट्रेस ने सोशल मीडिया पर लिखा है, “बहुत से लोग फोन कर रहे हैं और मुझे मीडिया में आने और बोलने के लिए कह रहे हैं। मेरी चुप्पी को मेरी कमजोरी नहीं माना जाना चाहिए। न्यायपालिका में सम्मान और यकीन के चलते मैं यह कदम उठा पाई। कई लोगों ने सार्वजनिक रूप से मेरा और मेरी बेटी का मजाक उड़ाया, जिसकी अनुमति कानून नहीं देता। पीड़िता का नाम सार्वजानिक करना अपराध है।”
पीड़िता की मां आगे लिखती हैं, “मैंने चुप रहा चुना, क्योंकि मैं मामले में शिकायतकर्ता नहीं हूं। जो सच है, वह सामने आएगा। मामला विचाराधीन है और इसलिए मैं किसी से बात नहीं कर रही हूं। क्योंकि हिरासत का मामला हाईकोर्ट में लंबित है। मेरा सभी से विनम्र अनुरोध है कि कृपया कानून व्यवस्था का मजाक न बनाएं। क्योंकि मैंने संबंधित अधिकारियों को अपना बयान दिया है। सच्चाई की जीत होने दें।”

दिव्या खोसला कुमार ने उठाया सवाल
एक्ट्रेस, डायरेक्टर और फिल्म प्रोड्यूसर दिव्या खोसला कुमार इस मामले में पर्ल वी. पुरी का पक्ष ले रही हैं। उन्होंने पीड़िता की मां की सोशल मीडिया पोस्ट पर कमेंट करते हुए लिखा, “पर्ल ने हाल ही में अपने पिता को खोया। उनकी मां कैंसर पीड़ित हैं। उसकी मदद करने वाला कोई नहीं है। वे बार-बार रोते हुए मुझे कॉल कर रही हैं। उन्हें (पर्ल को) रेप के मामले में इतनी मजबूत धाराओं के तहत सलाखों के पीछे डाल दिया गया है कि उन्हें जमानत नहीं मिल रही है।”

दिव्या ने आगे लिखा है, “कोविड और छुट्टियों के कारण हाईकोर्ट बंद है। इस बीच अगर पर्ल की मां को कुछ हो जाता है तो हम किसे जिम्मेदार ठहराएं? क्योंकि कानून अपना समय लेगा। आपके पास पर्याप्त समय है। लेकिन एक सीनियर सिटीजन कैंसर से पीड़ित है। क्या आपको पूरे मामले की संवेदनशीलता का एहसास है?” इससे पहले दिव्या ने सोशल मीडिया पोस्ट में विक्टिम की पहचान उजागर की थी और कई तरह के सवाल उठाए थे। (पढ़ें पूरी खबर)

2019 में हुई थी पर्ल की शिकायत
2019 में ही विक्टिम के पिता ने पर्ल पुरी के खिलाफ वर्सोवा पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई थी। इसके करीब दो साल बाद 4 जून 2021 को मुंबई पुलिस ने पर्ल को गिरफ्तार किया और 5 जून को कोर्ट ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। पिछले दिनों एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में वसई डीसीपी संजय कुमार ने खुलासा किया कि दुष्कर्म की शिकायत पीड़िता के पिता ने वर्सोवा पुलिस थाने में कराई थी। बाद में इसे वालिव पुलिस स्टेशन ट्रांसफर कर दिया गया, जहां पॉक्सो एक्ट की धारा 376 के तहत पर्ल वी पुरी के खिलाफ केस दर्ज हुआ है। उन्होंने यह भी कहा था कि पर्ल पर लगे आरोप गलत नहीं हैं और इस बात के उनके पास पुख्ता सबूत हैं।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

प्लेनेट मराठी ओटीटी ने आकर्षक लोगो का पहला लुक लॉन्च किया

मुंबई : प्लेनेट मराठी को दुनिया भर में विशेष मराठी कंटेंट स्ट्रीम मुहैया कराने वाला …