नीति आयोग की छठी गवर्निंग काउंसिल की बैठक:प्रदेश में पराली निस्तारण के लिए कंप्रेस्ड बायो गैस प्लांट किए जाएंगे स्थापित: सीएम

 

सीएम मनोहर लाल ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई नीति आयोग की छठी गवर्निंग काउंसिल की बैठक में हिस्सा लिया। इस दौरान उन्हाेंने बताया कि प्रदेश में पराली निस्तारण के लिए केंद्र सरकार के सहयोग से कंप्रेस्ड बायो गैस प्लांट स्थापित किए जाएंगे। पहले चरण में 100 प्लांट लगाए जाएंगे।

फसल कटाई के बाद भंडारण व्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए वेयरहाउसिंग योजना के तहत गोदाम बनाए जाएंगे, जिन्हें डीम्ड मंडी के रूप में इस्तेमाल किया जाएगा, ताकि वहीं से उपज की बिक्री हो सके। सीएम ने बताया कि कृषि को बढ़ावा देने के लिए संसाधनों के बेहतर व उचित उपयोग के लिए जिला स्तर पर फसल प्रणाली को कृषि-जलवायु परिस्थितियों के साथ जोड़ने की दिशा में कार्य किया जा रहा है।

धान की फसल की जगह वैकल्पिक फसलों जैसे मक्का, कपास, बाजरा, दालें, सब्जियां और फलों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से मेरा पानी मेरी विरासत योजना शुरू की गई है। इस योजना के तहत किसानों को फसल विविधिकरण अपनाने के लिए 7 हजार रुपए प्रति एकड़ का प्रोत्साहन दिया जा रहा है।

सीएम ने कहा कि प्रदेश सरकार जल संरक्षण को बढ़ावा देने पर बल दे रही है। सीएम ने कहा कि प्रदेश में हरियाणा उद्यम एवं रोजगार नीति 2020 शुरू की गई। लॉजिस्टिक्स और ट्रांसपोर्टेशन में सुधार करके व्यापार करने की लागत को कम किया। इसके लिए लॉजिस्टिक एवं वेयरहाउसिंग पॉलिसी, 2019 लाॅन्च की गई।

नारनौल में एकीकृत मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक्स हब विकसित किया जा रहा है। गन्नौर में लगभग सात हजार करोड़ रुपए की लागत से अंतर्राष्ट्रीय बागवानी बाजार स्थपित किया जा रहा है। गुरुग्राम में फूल मार्केट, सेब के व्यापार की सुविधा के लिए पंचकूला में सेब मार्केट और सिरसा में मसाला मार्केट भी बनाई जा रही है। ड्रोन कॉर्पोरेशन की स्थापना की जा रही है और पलवल से सोनीपत तक हरियाणा ऑरबिटल रेल कॉरिडोर विकसित किया जा रहा है।

सीएम ने कहा कि जिला स्तरीय प्रतियोगिता के माध्यम से निर्यात को बढ़ावा देने के लिए एमएसएमई को माल ढुलाई सब्सिडी दी जा रही है। जिला स्तरीय निर्यात प्रोत्साहन समितियों का भी गठन किया गया है। प्रदेश से करीब 85000 करोड़ रुपए का निर्यात किया जा रहा है, जिसमें बासमती, आईटी और ऑटोमोबाइल पार्टस शामिल हैं।

 

Check Also

मौसम खुलने से कारोबार में गिरावट:वीकेंड पर ही 70 से 80% तक होटलों में ऑक्यूपेंसी, आम दिनों में सिर्फ 30 फीसदी टूरिस्ट ही पहुंच रहे

  शिमला के रिज मैदान पर घूमने का मजा लेते पर्यटक। शिमला में अब केवल …