Sunday , July 21 2019
Home / खेल / नडाल को पछाड़ विंबलडन फाइनल में पहुंचे फेडरर, जोकोविच से आज होगी खिताबी भिड़ंत

नडाल को पछाड़ विंबलडन फाइनल में पहुंचे फेडरर, जोकोविच से आज होगी खिताबी भिड़ंत


लंदन:
स्विट्जरलैंड के स्टार खिलाड़ी रोजर फेडरर ने विंबलडन के पुरुष वर्ग के खिताबी मुकाबले में प्रवेश कर लिया है। उन्होंने शुक्रवार को खेले गए सेमीफाइनल में सबसे कट्टर प्रतिद्वंद्वी माने जाने वाले राफेल नडाल को 7-6(7-3), 1-6, 6-3, 6-4 से पराजित कर दिया। विंबलडन मुकाबला रविवार को होगा। स्विस किंग के नाम से मशहूर यह टेनिस स्टार साल के तीसरे ग्रैंड स्लैम के फाइनल में 12वीं बार पहुंचा है।

खिताबी मुकाबला उनके और नोवाक जोकोविच के बीच खेला जाएगा। फेडरर ने स्पेनिश खिलाड़ी से यह कड़ा मुकाबला 3 घंटे 2 मिनट के लंबे संघर्ष के बाद जीता। उन्होंने पहला सेट 7-6 से अपने नाम किया, जबकि दूसरे सेट में नडाल भारी पड़े और 6-1 से जीत दर्ज करते हुए मैच बराबरी पर ला लिया। इसके बाद फेडरर ने रफ्तार पकड़ी और लगातार दो सेट 6-3 और 6-4 से जीतते हुए ड्रीम सेमीफाइनल अपने नाम कर लिया। बता दें कि फेडरर ने 8 बार इस टूर्नामेंट का फाइनल जीता है, जबकि 3 बार उपविजेता रहे हैं।

दूसरी ओर, मौजूदा विंबलडन विजेता और वर्ल्ड नंबर-1 पुरुष टेनिस खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने शुक्रवार को ही स्पेन के रोबर्टो बॉतिस्ता अगुट को मात दे छठी बार इस टूर्नमेंट के फाइनल में प्रवेश किया। जोकोविच ने सेंटर कोर्ट पर खेले गए पहले सेमीफाइनल में स्पेनिश खिलाड़ी को दो घंटे 48 मिनट तक चले मैच में 6-2, 4-6, 6-3, 6-2 से मात दी। जोकोविक इससे पहले पांच बार-2011, 2013, 2014, 2015 और 2018 में फाइनल खेल चुके हैं जिसमें सिर्फ एक बार 2013 में उन्हें हार मिली थी।

मैच के बाद जोकोविच ने कहा मुझे काफी मेहनत करनी पड़ी। यह सेमीफाइनल था और बॉतिस्ता अपना पहला ग्रैंड स्लैम फाइनल खेल रहे थे। वह काफी खुश थे। वह शानदार खेले। पहले सेट में उन्होंने धैर्य बनाए रखा, लेकिन बाद में वे और बेहतर खेलने लगे। मैं थोड़ा फंस गया था। तीसरे सेट के पहले चार और पांच गेम काफी करीबी थे। वहां मैच कहीं भी जा सकता था। मुझे खुशी है कि वह मेरी तरफ आया।

Loading...

Check Also

हार्दिक पांड्या ने कुछ इस तरह से काटे हैं गरीबी के दिन

भारतीय टीम के ऑलराउंडर खिलाड़ी हार्दिक पांड्या भारतीय टीम के बहुत ही होनहार बल्लेबाज़ और ...