धोबी घाट झुग्गी बस्ती में आग लगी, लपटों की तपिश से फटे कई घरों के सिलेंडर; 15 झोपड़ियों की गृहस्थी जलकर राख

 

यह फोटो लखनऊ के ऐशबाग स्थित धोबीघाट की है। रविवार रात यहां झोपड़ियों में आग लग गई।

  • बाजार खाला थाना क्षेत्र के धोबी घाट की घटना
  • मौके पर पहुंची 11 दमकल की गाड़ियों ने आग पर काबू पाया

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में रविवार आधी रात बाजार खाला थाना क्षेत्र स्थित धोबी घाट झुग्गी बस्ती में अचानक आग लग गई। कुछ ही देर में लपटों ने करीब 15 झोपड़ियों को अपनी जद में ले लिया। आग की तपिश से कई छोटे-बड़े सिलेंडर में धमाके हुए। इससे आग और विकराल हो गई। एकाएक आग लगने से झोपड़ी में रह रहे लोग सारा सामान छोड़कर भागे। मौके पर पहुंची 10 से ज्यादा फायर ब्रिगेड की गाड़ियों ने आग पर काबू पाया। मौके पर सीएफओ फायर के साथ लखनऊ पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडे भी पहुंचे। आज सुबह लोग राख के ढेर से गृहस्थी के बचे सामान को बटोरते नजर आए।

जलकर राख हुई गृहस्थी को देखती महिला।

जलकर राख हुई गृहस्थी को देखती महिला।

40 सालों से रह रहे थे लोग, आसपास थी 200 झोपड़ी
धोबी घाट पर 40 वर्षों से करीब 200 परिवार झोपड़ी बनाकर रहता है। रविवार रात आग कैसे लगी? इसका कारण अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है। लेकिन जो नुकसान हुआ है, उसकी भरपाई होना मुश्किल है। घर में सो रही सबीना का कहना है कि रात करीब 1:30 बजे आग की लपटें उठना शुरू हुई। मैं अपने बच्चे को लेकर घर से भाग भागी, मेरे घर की गृहस्थी का सारा सामान जलकर राख हो गया।

वहीं, सन्नो का कहना है कि रात में मैं सो रही थी। अचानक सिलेंडर फटने की आवाज सुनाई दी, मैं बच्चे को लेकर बाहर भागी देखा तो बहुत तेज आग जल रही थी। मेरे घर का सारा सामान जल गया। मैंने किसी तरह अपनी जान बचाई। स्थानीय लोगों का कहना है कि मौके पर पहुंची दमकल की गाड़ी और स्थानीय पुलिस ने एक दर्जन से ज्यादा दमकल की गाड़ियों की मदद से आग पर काबू पाया। किसी जनहानि होने की अभी तक सूचना नहीं मिली है।

महिलाओं को समझाता पुलिस अफसर।

महिलाओं को समझाता पुलिस अफसर।

आग लगने की चल रही जांच

पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने बताया कि फायर ब्रिगेड की गाड़ियों ने लगभग 2 घंटे में आग पर काबू पा लिया। फिलहाल आग में कोई हताहत नहीं हुआ है। वहीं, सीएफओ विजय कुमार का कहना है कि हमें रात करीब 1:30 बजे आग लगने की सूचना मिली। फायर ब्रिगेड की 4 गाड़ियां चौक से मौके पर पहुंची। लेकिन आग भीषण थी कि इसलिए 4 गाड़ी हजरतगंज से, तीन गाड़ी इंदिरा नगर से मंगानी पड़ी। आग लगने के कारणों की जांच की जा रही है।

सिलेंडर को हटाता फायरकर्मी।

सिलेंडर को हटाता फायरकर्मी।

अग्निकांड में लोगों के घरों में रखी गृहस्थी जलकर राख हो गई।

अग्निकांड में लोगों के घरों में रखी गृहस्थी जलकर राख हो गई।

 

Check Also

गोरखपुरः बहन ने प्रेमी के भेजे सिंदूर से भरी मांग, पहना मंगलसूत्र, भाई ने फावड़े से काट डाला

गोरखपुरः उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में गांव के एक युवक से किशोरी को प्‍यार करना महंगा …