धनबाद के रेल SP आवास के पास लगी भीषण आग:सिग्नल केबल के 100 बंडल से ज्यादा तार हुए राख, 4.30 घंटे बाद दमकल की 5 गाड़ियां भी नहीं पा सकी हैं काबू, DRM ने दिए जांच के आदेश

 

धनबाद के हिल कॉलोनी स्थित रेल SP आवास से सटे हिस्से में भीषण आग लग गई है। यह आग रेलवे के सिगनल एंड टेलीकॉम विभाग के केबल स्टॉक में लगी है। 12.15 बजे लगी इस आग पर अभी तक काबू नहीं पाया जा सका है। आग लगातार बढ़ती जा रही है। दमकल की 5 गाड़‍ियां इस आग को बुझाने में मशक्‍कत कर रही है, लेकिन सफल नहीं हो पाई है। आग की लपटें इतनी तेज है क‍ि रेल एसपी के आवास में लपटें पहुंच चुकी है। रेलवे के सभी आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। अभी तक आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है। डीआरएम आशीष बंसल ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।

दमकल की 5 गाड़‍ियां इस आग को बुझाने में मशक्‍कत कर रही है, लेकिन सफल नहीं हो पाई है।

दमकल की 5 गाड़‍ियां इस आग को बुझाने में मशक्‍कत कर रही है, लेकिन सफल नहीं हो पाई है।

हिल कॉलोनी में रखा गया था पूरे डिवीजन का था केबल स्टॉक
धनबाद रेल मंडल में सिगनल एंड टेलीकॉम विभाग की ओर से सिग्नल अपग्रेडेशन के काम चल रहा है। इसे लेकर ही करोड़ों के मूल्य का केबल मंगाया गया था और हिल कॉलोनी में एसपी आवास के ठीक बगल में उन्हें स्टॉक किया गया था। उसी स्टॉक में आग लगी है।

आसपास के मोहल्ले को खाली कराया गया
आग बुझने फायर डिस्टिंग्विशर के साथ फायर बॉल का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। आग की लपटें इतनी तेज है कि पूरे रेलवे कॉलोनी में आग का धुआं भर गया है। आग की लपटों को देखते हुए पूरे मोहल्ले को खाली करा लिया गया है। एसपी की नियुक्ति नहीं होने से एसपी आवास पहले से ही खाली था। फिलहाल वहां कोई नहीं रह रहा था।

आग को देखने के ल‍िए वहां आस-पास लोगों की भीड़ भी बढ़ती ही जा रही है।

आग को देखने के ल‍िए वहां आस-पास लोगों की भीड़ भी बढ़ती ही जा रही है।

आग देखने के लिए लगी भीड़, पुलिस को भांजनी पड़ी लाठियां
आग को देखने के ल‍िए वहां आस-पास लोगों की भीड़ भी बढ़ती ही जा रही है। भीड़ नियंत्रण के लिए रेल पुलिस को लाठियां भी भांजनी पड़ रही है। डीआरएम आशीष बंसल समेत तमाम आला अधिकारी पहुंच चुके हैं। रेल पुलिस के दोनों डीएसपी भी मौके पर मौजूद हैं। भीड़ नियंत्रण के लिए डीएसपी खुद डंडा थाम चुके हैं। इससे क‍िसी व्‍यक्‍ति के हताहता होने की अभी तक कोई खबर नहीं है। लेक‍िन संभावना बनी हुई है। आग की लपट लगातार बेकाबू होती जा रही है।

घटनास्थल पर जेसीबी मशीन की मदद से तार को बचाने की कोशिश की जा रही है।

घटनास्थल पर जेसीबी मशीन की मदद से तार को बचाने की कोशिश की जा रही है।

JCB की मदद से निकाला जा रहा है तार का बंडल
इस आग से रेलवे को लाखो रुपए नकुसान का अंदाजा लगाया जा रहा है। हालांकि अभी कोई भी अधिकारी कुछ भी बताने से बच रहे हैं। इन दिनों पूरा हिल कॉलोनी ही केबल का गोदाम बना हुआ है। ना सिर्फ एसआरपी आवास के चारों तरफ बल्कि मजार के पास बन रहे मंदिर होते हुए पत्थर कोठी तक का पूरा इलाका सड़क के दोनों तरफ केबल का ढेर पड़ा हुआ है। तार को जेसीबी की मदद से बचाने की कोशिस की जा रही है।

Check Also

सिमडेगा में युवक ने की आत्महत्या:इमली के पेड़ से बने फंदे में लटकी मिली लाश, कुछ माह पूर्व मुंबई से आया था वापस

  मृतक की पहचान बासिल एक्का (31) के रूप में की गई। कुरडेग थाना क्षेत्र …