दुमका से आज नामांकन दाखिल करेंगे झामुमो प्रत्याशी बसंत, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी साथ रहेंगे

 

दुमका सीट पर हो रहा उप चुनाव मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और झामुमो के लिए प्रतिष्ठा वाली सीट बन गई है। -फाइल फोटो।

  • मुख्यमंत्री के लिए प्रतिष्ठा का सीट बनी दुमका
  • यहां 2019 में हेमंत सोरेन को जीत मिली थी

झामुमो प्रत्याशी बसंत सोरेन दुमका विधानसभा सीट से आज नामांकन का पर्चा भरेंगे। इस मौके पर राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी साथ रहेंगे। बसंत सोरेन झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन के छोटे बेटे और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के छोटे भाई हैं। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा खाली करने के कारण ही दुमका सीट पर उप चुनाव होने जा रहा है। 2019 के विधान सभा चुनाव में हेमंत सोरेन दुमका और बरहेट दोनों सीटों से चुनाव जीते थे। दो सीट से जीतने के कारण उन्होंने एक सीट (दुमका) छोड़ दी थी। 3 नवम्बर को झारखंड में दुमका के साथ ही बेरमो सीट पर उप चुनाव होगा।

दुमका सीट पर हो रहा उप चुनाव मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और झामुमो के लिए प्रतिष्ठा वाली सीट बन गई है। इसके दो कारण हैं। पहला तो यह सीट मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा खाली की हुई सीट है और दूसरा कि सीएम के भाई बसंत सोरेन इस सीट चुनाव लड़ने जा रहे हैं। बसंत सोरेन झामुमो के अंदर कई वर्षों से सक्रिय रहे हैं।

2019 विधानसभा चुनाव में बसंत ही संभाल रहे थे कमान
माना जा रहा है कि पिछला चुनाव 2019 में जो विधानसभा का हुआ था उसमें मुख्यमंत्री को जिताने में बसंत सोरेन की बड़ी भूमिका रही थी। उन्हीं की रणनीति भी बनाई हुई थी। झारखंड युवा मोर्चा के केंद्रीय अध्यक्ष बसंत सोरेन एक बार राज्य सभा का चुनाव भी लड़ चुके हैं। 2019 के विधान सभा चुनाव में दुमका विधान सभा क्षेत्र की कमान बसंत सोरेन ही संभाल रहे थे। 2019 के चुनाव में झामुमो प्रत्याशी हेमंत सोरेन ने भाजपा प्रत्याशी डॉक्टर लुइस मरांडी को 13,188 वोट से हराया था।

उपचुनाव में झामुमो प्रत्याशी बसंत सोरेन के नामांकन का पर्चा भरने के अवसर पर सोमवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के साथ ही उनके मंत्रिमंडल के कई सहयोगियों के अलावा झामुमो के कई विधायक और पार्टी के प्रमुख नेता दुमका में मौजूद रहेंगे। हालांकि नामांकन का पर्चा भरने के लिए प्रत्याशी के साथ केवल दो लोगों को ही सहायक निर्वाची पदाधिकारी के कार्यालय में जाने की अनुमति है।

 

Check Also

चंदवा में पेड़ से लटकी मिली लड़की की लाश, हत्या की आशंका

मृतका की पहचान बारी गांव के ऐटे टोला निवासी बिशुन भूइंया की 17 वर्षीया बेटी …