वाशिंगटन : दुनिया में कोरोना संक्रमण का कहर लगातार जारी है। जबकि ब्रुसेल्स में कोरोना और उसके नए स्वरूप ओमिक्रॉन से बचाव के लिए लगाए गए प्रतिबंधों के खिलाफ लोग सड़कों पर उतर आए हैं। इसे लेकर हुई हिंसक झड़प में तीन पुलिसकर्मी और 12 प्रदर्शनकारी घायल हो गए हैं। इस बीच, दुनिया में 22.27 लाख नए मामलों के साथ अमेरिका और फ्रांस में संक्रमण में कुछ गिरावट दर्ज की गई।

दुनियाभर में कोरोना को लेकर पिछले एक दिन में 4,831 लोगों की मौत भी हुई है। नए संक्रमितों में फ्रांस तीन लाख नए मरीजों के साथ दूसरे नंबर पर और अमेरिका 1.97 लाख नए मरीजों के साथ तीसरे नंबर पर रहा। अमेरिका और फ्रांस में पिछले एक दिन में रोजाना आने वाले नए मामलों को लेकर यह गिरावट दर्ज की गई। हालांकि अमेरिका में संक्रमण से एक दिन में सर्वाधिक मौतें (574) हुईं जबकि फ्रांस में 115 लोगों ने जान गंवाई।

अब तक 35.23 करोड़ लोग इस महामारी की चपेट में आ चुके हैं जबकि 56.15 ने अपनी जान गंवाई है। उधर, ब्रुसेल्स में प्रतिबंधों के खिलाफ जबरदस्त प्रदर्शन किए और पत्रकारों को कवरेज करने से रोका। यहां हुए हिंसक प्रदर्शनों में पुलिस ने 70 लोगों को गिरफ्तार किया। इससे पहले हिंसक संघर्ष में तीन पुलिसकर्मी और 12 प्रदर्शनकारी घायल हो गए। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

डब्ल्यूएचओ के यूरोपीय निदेशक हैंस क्लूज ने कहा है कि कोविड -19 के ओमिक्रॉन स्वरूप ने यूरोप के देशों में महामारी को एक नए चरण में स्थानांतरित कर दिया है। उन्होंने कहा, हमारा अनुमान है कि महामारी खत्म होने से पहले साल के अंत में एक बार फिर वापस आ सकती है।

हालांकि उन्होंने कहा, यह जरूरी नहीं कि महामारी वापस लौटे। हैंस ने कहा, ओमिक्रॉन मार्च तक 60 फीसदी लोगों को संक्रमित कर सकता है। साथ ही उम्मीद जताई कि फिलहाल ओमिक्ऱन का उछाल पूरे यूरोप में चरम पर है जो कुछ ही हफ्तों या महीनों में वैश्विक प्रतिरक्षा के चलते थम जाएगा। इसमें टीकाकरण की बड़ी भूमिका होगी।

चीन के शिआन से एक माह बाद हटा लॉकडाउन, बीजिंग में 20 लाख लोगों की जांच
चीन सरकार ने शीतकालीन ओलंपिक से पहले कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप के कारण शिआन शहर में करीब एक महीने से जारी लॉकडाउन को अब हटा दिया है। शहर की आबादी करीब 1.3 करोड़ है। इस बीच, बीजिंग के एक जिले में करीब 20 लाख लोगों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई।

सरकार ने फेंगताई और 14 अन्य स्थानों पर संक्रमण के 25 मामले सामने आने के बाद बीजिंग के उच्च जोखिम वाले क्षेत्रों के लोगों को शहर ना छोड़ने को कहा है। फेंगताई के लोग बर्फ से ढके फुटपाथों पर कड़कड़ाती ठंड में जांच के लिए कतारों में खड़े दिखे।

चांसलर ओलाफ शुल्ज और जर्मनी के 16 प्रांतों के गवर्नर देश में महामारी को लेकर आगे की कार्ययोजना प्रस्तुत करने जा रहे हैं। उम्मीद है कि ओमिक्रॉन के बढ़ते प्रसार को देखते हुए लोगों के लिए पीसीआर परीक्षण बढ़ाए जाएं। देश में पिछले सप्ताह प्रति एक लाख लोगों पर 840 नए ओमिक्रॉन मामले देखे गए। पिछले 24 घंटों के दौरान देश में 63,393 नए मामले दर्ज किए गए।