दुनिया को कोरोना के दलदल में धकेल खुद मालमाल हुआ चीन, ऐसे पटरी पर लौटी ड्रैगन की अर्थव्यवस्था

पूरी दुनिया को कोरोना वायरस के दलदल में धकेलने वाला चीन अब खुद मालामाल हो रहा है। चीन की अर्थव्यवस्था अब कोरोना वायरस महामारी के प्रभाव से उबरती दिख रही है। सितंबर में चीन के व्यापार के आंकड़े काफी अच्छे रहे हैं। सीमा शुल्क विभाग द्वारा मंगलवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, सितंबर में चीन का निर्यात 9.9 प्रतिशत बढ़कर 239.8 अरब डॉलर पर पहुंच गया। अगस्त में निर्यात में 9.5 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज हुई थी। इसी तरह सितंबर में आयात 13.2 प्रतिशत बढ़कर 202.8 अरब डॉलर पर पहुंच गया। अगस्त में चीन के आयात में 2.1 प्रतिशत की गिरावट आई थी।

कोविड-19 महामारी की वजह से दुनियाभर की अर्थव्यवस्थाओं में लॉकडाउन लगाया गया था। लेकिन चीन की अर्थव्यवस्था लॉकडाउन के बाद जल्दी खुल गई है, जिसका फायदा उसके निर्यातकों को हो रहा है। विशेषकर मास्क और चिकित्सा आपूर्ति के मामले में चीन के निर्यातकों की चांदी है और वे विदेशी प्रतिद्वंद्वियों की बाजार हिस्सेदारी भी हासिल कर रहे हैं।

एक साल पहले की तुलना में सितंबर में चीन का वैश्विक व्यापार अधिशेष 6.6 प्रतिशत बढ़कर 37 अरब डॉलर पर पहुंच गया। हालांकि, अगस्त के 58.9 अरब डॉलर के आंकड़े की तुलना में यह काफी कम है।  चीन का अमेरिका के साथ लंबे समय से व्यापार विवाद चल रहा है। इसके बावजूद सितंबर में अमेरिका को चीन का निर्यात 20.5 प्रतिशत बढ़कर 44 अरब डॉलर पर पहुंच गया। वहीं अमेरिकी वस्तुओं का आयात 24.5 प्रतिशत बढ़कर 13.2 अरब डॉलर रहा।

चीन दुनिया की पहली बड़ी अर्थव्यवस्था है जो कोविड-19 के पूर्व के वृद्धि के स्तर पर पहुंची है। दूसरी तिमाही में चीन की वृद्धि दर 3.2 प्रतिशत रही है। बता दें कि चीन के वुहान शहर से कोरोना वायरस पूरी दुनिया में फैला था। सबसे पहले चीन में इसका असर देखने को मिला, मगर उसके बाद दुनियाभर में कोरोना ने ऐसी तबाही मचाई कि न सिर्फ दुनिया के अधिकतर देशों की अर्थव्यवस्था प्रभावित हुई, बल्कि लाखों लोगों की मौतें भी हो गईं।

Check Also

सर्वे में खुलासा- विदेश नीति के मामले में ट्रंप की तुलना में जो बाइडेन साबित होंगे ज्यादा प्रभावी राष्ट्रपति

न्यूयॉर्कः अंतररराष्ट्रीय संबंधों के विशेषज्ञों के एक सर्वे में दावा किया गया है कि अगर डेमोक्रेटिक …