दिनभर एनर्जेटिक बने रहने के लिए खाली पेट करें इन चीज़ों का सेवन

सुबह उठकर आपको सबसे पहले गुनगुना पानी पीना चाहिए। गुनगुना पानी आपके शरीर में पहुंचकर सभी बॉडी पार्ट्स को डिटॉक्स कर देता है। इससे रात के खाने को पचाने के बाद शरीर में जमा हुई गंदगी शरीर से बाहर निकल जाती है। इसके अलावा गुनगुना पानी मेटाबॉलिज्म बढ़ता है, जिससे आपके पेट के हिस्से में जमा चर्बी कम होने लगती है।

जिन लोगों के शरीर में खून की कमी है, आयरन की कमी है या भूख कम लगती है और दिनभर थकान रहती है, उन्हें सुबह उठकर भीगी हुई किशमिश का प्रयोग करना चाहिए। किशमिश में आयरन अच्छी मात्रा में होता है, इसलिए किशमिश के सेवन से आपके शरीर में खून बढ़ता है और एनर्जी आती है। इसके लिए रात में आधी मुट्ठी किशमिश को एक ग्लास पानी में भिगोकर रख दें। सुबह उठकर इस किशमिश के पानी को पी लें और फूली हुई किशमिश को खा लें। इससे आपका मेटाबॉलिज्म बढ़ेगा और शरीर को ढेर सारे फायदे मिलेंगे। केवल डायबिटीज रोगी और पीसीओडी से ग्रस्त महिलाएं इसका सेवन न करें।

बादाम को सेहत का खजाना कहा जाता है क्योंकि इसमें ढेर सारे विटामिन्स, मिनरल्स और एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं। सुबह उठने के बाद अगर आप 5 से 10 भीगे हुए बादाम खा लेते हैं, तो इससे आपको ढेर सारे फायदे मिलते हैं। इसके लिए रात में 5 से 10 बादामों को आधी ग्लास पानी में भिगोकर रख दें। आपको इस पानी को नहीं पीना है, बल्कि बादाम के छिलके को निकालकर इसे खाना है। बादाम के छिलकों में टैनिन्स नाम का तत्व होता है, जो पोषक तत्वों को अवशोषित होने से रोकता है।

खाली पेट पपीता खाना भी सेहत के लिए फायदेमंद होता है। पपीता आपके पेट की अच्छी सफाई कर देता है और पेट से जुड़ी सभी समस्याओं को दूर कर देता है। सुबह उठकर एक बाउल पपीता खाएं और आप पाएंगे कि आपको मलत्याग में बिल्कुल भी जोर नहीं लगाना पड़ रहा है। बस इस बात का ध्यान दें कि पपीता खाने के कम से कम 1 घंटे बाद तक आपको कुछ और नहीं खाना चाहिए।

Check Also

6 मनोवैज्ञानिक कारण क्यों किसी को हमारे लिए अधिक आकर्षक लगता है

हम सोचते हैं कि सुंदरता देखने वाले की नजर में है। लेकिन, जैसा कि एक अध्ययन …