थाने में सुसाइड का प्रयास:​​​​​​​बालोद में पुलिस कस्टडी में युवक ने हाथ और गले की नस काटी, अपहरण के मामले में पुलिस ने पकड़ा था

 

छत्तीसगढ़ के बालोद में नाबालिग के अपहरण मामले में गिरफ्तार किए गए आरोपी ने थाने में सुसाइड करने का प्रयास किया। - Dainik Bhaskar

छत्तीसगढ़ के बालोद में नाबालिग के अपहरण मामले में गिरफ्तार किए गए आरोपी ने थाने में सुसाइड करने का प्रयास किया।

  • रनचिरई थाने की घटना, UP से पुलिस ने नाबालिग को बरामद कर किया था आरोपी को गिरफ्तार
  • टॉयलेट के अंदर खुदकुशी की कोशिश, बेहोशी की हालत में गुंडरदेही अस्पताल में कराया गया भर्ती

छत्तीसगढ़ के बालोद में सोमवार सुबह अपहरण के एक आरोपी ने पुलिस कस्टडी में सुसाइड का प्रयास किया। युवक ने टॉयलेट जाने के बहाने अपने गले और हाथ की नस काट ली। उसे गंभीर हालत में गुंडरदेही अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है। पुलिस ने आरोपी को नाबालिग के अपहरण मामले में गिरफ्तार किया था। बताया जा रहा है कि जेल जाने के डर से उसने यह कदम उठाया है। मामला रानीचिरई थाने का है।

जानकारी के मुताबिक, समतरा निवासी हरिश्चंद साहू (28) को पुलिस ने एक नाबालिग लड़की के अपहरण मामले में UP से गिरफ्तार किया था। उसे रात रविवार देर रात 2 बजे ही रानीचिरई थाने लाया गया। सुबह उसे कोर्ट में पेश करने की तैयारी चल रही थी। बताया जा रहा है कि सुबह करीब 10 बजे टॉयलेट जाने के बहाने उसने अपने हाथ और गले की नस काट ली। हालांकि उसकी हालत अब स्थिर बताई जा रही है।

खिड़की पर रखा ब्लेड लेकर टॉयलेट में गया था आरोपी
पुलिस ने बताया कि खिड़की में रखे ब्लेड को पकड़कर आरोपी टायलेट जा रहा हूं कहकर गया था। जिसके बाद उसने अंदर ही सुसाइड का प्रयास किया। पुलिसकर्मियों ने उसे बेहोशी की हालत में गुंडरदेही अस्पताल में भर्ती कराया है। पुलिस के अनुसार इस तरह का जिले में यह पहला मामला है। आरोपी ने अपने बयान में बताया है कि जेल जाने के डर से उसने खुदकुशी करने का प्रयास किया है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।

प्रेम प्रसंग में पहले भी कर चुका है सुसाइड का प्रयास
स्थानीय 17 साल की किशोरी गायब हो गई थी। परिजनों के रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद पुलिस ने आरोपी को UP में आजमगढ़ के लालगंज क्षेत्र से गिरफ्तार कर लड़की को बरामद कर लिया था। पुलिस के अनुसार, आरोपी पर पहले से गांव में विवाद, मारपीट करने और शराब शीशी फेंके जाने को लेकर दो मामले दर्ज हैं। वह जेल भी जा चुका है। एक बार प्रेम प्रसंग के चलते भी उसने जहर खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की थी।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

फलोदी जेल ब्रेक, सबकुछ पहले से तय था:भागने से पहले तय हुआ था कि कोई घर नहीं जाएगा; 16 बंदियों में जो 1 पकड़ा गया उसे घर की याद ने जेल पहुंचाया

  गिरफ्तार बंदी मोहनराम फलौदी जेल ब्रेक करके भागने की योजना कोई एक-दो दिन की …