तेजस्वी का हलफनामा तथ्यों से परे, पिता लालू की तरह ही वह भी जेल में बिताएंगे जिंदगी : सुशील मोदी

पटना : बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के द्वारा नामांकन के दौरान दिए हलफ़नामे को अविश्वसनीय बताया है। सुशील मोदी ने कहा कि तेजस्वी ने अपने सम्पत्ति के ब्योरे में बहुत कुछ छिपा कर ग़लत जानकारी दी है। सुशील मोदी ने कहा तेजस्वी ने अपने हलफनामे में बताया है कि उन्होंने 4 करोड़ 10 लाख का ऋण किसी कम्पनी को दिया है।

उन्होंने कहा कि सवाल यह है कि इतने पैसे उनके पास आए कहां से? सुशील मोदी ने कहा कि रघुनाथ झा और कांति सिंह से गिफ़्ट में मिली सम्पत्ति उन्होंने खरीद की सम्पत्ति बताई है। कांति सिंह ने पटना के चितकोहरा में जी-2 मकान गिफ़्ट कर दिया था। गोपालगंज के दो मंज़िला मकान को शपथपत्र में केवल ग्राउंड फ़्लोर दिखाया गया है। सुशील मोदी ने सवाल किया कि आख़िर तेजस्वी में क्या योग्यता थी जिसके बलबूते वह करोडों के मालिक बन गए? सुशील मोदी ने कहा कि लालू प्रसाद की ज़िंदगी का बड़ा हिस्सा जेल में बीता है। तेजस्वी को भी लम्बे समय तक जेल में रहना होगा।

उल्लेखनीय है कि राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद के छोटे बेटे तेजस्वी यादव ने बुधवार को वैशाली के राघोपुर निर्वाचन क्षेत्र से अपना नामांकन दाखिल किया है। इस दौरान उन्होंने जो शपथ पत्र दिया है, उसके अनुसार उनके पास कुल पांच करोड़ 88 लाख रुपए से अधिक की चल और अचल संपत्ति है। एफिडेविट के अनुसार तेजस्वी यादव के पास नकद एक लाख 20 हजार रुपए हैं, जबकि चल संपत्ति का बाजार मूल्य चार करोड़ 73 लाख 20 हजार 61 रुपये और अचल संपत्ति का कुल वर्तमान बाजार मूल्य एक करोड़ 15 लाख 70 हजार रुपए है। तेजस्वी ने अपने शपथपत्र में दिल्ली के आरकेपुरम स्थित डीपीएस स्कूल से नौवीं पास करने की जानकारी दी है और उनके पास कोई वाहन नहीं है। तेजस्वी ने अपने एफिडेविट में उनके उपर चल रहे 20 मुकदमों का जिक्र किया है। जिसमें सीबीआइ के अलावा कोविड काल के भी केस शामिल हैं।

Check Also

Bihar Election 2020: टुकड़े-टुकड़े गैंग माले को तेजस्‍वी ने क्यों लगाया गले, देना होगा जवाब : अनुराग ठाकुर

 Bihar Election 2020: केंद्रीय वित्‍त राज मंत्री अनुराग ठाकुर ने मंगलवार , 27 अक्‍टूबर को डबल …