तिहरे हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा

औरास/उन्नाव।
दो दिन पूर्व औरास थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम टिकरा में टिकरा तालाब के निकट एक महिला सरोजनी देवी व उसकी दो बेटियों के शव तालाब किनारे बरामद किए गए थे। इस घटना में तीन लोगों के नाम प्रकाश में आए थे। पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए दो व्यक्तियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। जबकि एक अन्य युवक की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार दबिश दे रही है।

ज्ञात हो कि मृतका ग्राम सैदापुर की रहने वाली थी। जिसके पति व परिवारजनों के बीच अक्सर मतभेद बना रहता था। पति अनंतू नशेबाज पृवत्ति का युवक है, जो अपनी पत्नी के साथ रोज मारपीट करता था। इसी के चलते मृतका अप्रैल माह में अपने मायके पूरनखेड़ा चली गई थी। जहाँ मृतका के पिता ने अपने परिचित वीरेंद्र से उसे समझा बुझा कर ससुराल भेजने की बात कही थी। इसके बाद से वीरेन्द्र और मृतका सरोजनी की बात चीत होने लगी थी। इसी के चलते तीनों अभियुक्तों ने उसे लखनऊ ले जाकर उसकी शादी कराने की बात कही थी। जिस बात से मृतका ने मना किया तो विवाद बढ़ गया। जिसके बाद तीनों अभियुक्तों ने साड़ी से गला दबाकर सरोजनी व उसकी दो पुत्रियों की हत्या कर दी थी। वहीं दो अभियुक्तों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है एक अभियुक्त अभी फरार है। जिसके लिए टीम गठित कर दबिश दी जा रही है।

वहीं इस घटनाक्रम को गंभीरता से देखते हुए बुधवार को एडीजी जोन एस0एन0 सावत व एसपी विक्रांतवीर ने घटनास्थल पर पहुंच साक्ष्य इकट्ठा कर 48 घण्टे में इस तेहरे हत्याकांड का खुलासा किया। इस मामले में मुख्य आरोपी वीरेन्द्र पुत्र रामशंकर निवासी नेवादा थाना औरास ,
छोटू उर्फ मुमताज अली पुत्र नन्हा निवासी टियर थाना औरास, अनिल यादव पुत्र रामकिशन निवासी ग्राम नेवादा थाना औरास को गिरफ्तार किया।

Check Also

गैंगस्टर विकास के करीबियों के शस्त्र और उनके लाइसेंस पर पुलिस की नजर; डीजीपी ने तलब की रिपोर्ट

  लखनऊ. कानपुर के बिकरु गांव में 8 पुलिसवालों की हत्या का आरोपी और गैंगस्टर विकास दुबे …