डेथ क्लेम में होगी आसानी:एलआईसी ने कहा, बिना मनपा के डेथ सर्टिफिकेट के भी ले सकते हैं क्लेम, जाने कैसे मिलेगी दावे की रकम

ऑनलाइन सेवाओं जैसे बीमा पॉलिसियां खरीदने, रिन्यूअल प्रीमियम का पेमेंट, लोन के लिए आवेदन करना, लोन और ब्याज का रिपेमेंट करना, पता में परिवर्तन, पैन का विवरण अपडेट करने जैसी सुविधाएं ऑन लाइन की जा सकती हैं - Dainik Bhaskar

ऑनलाइन सेवाओं जैसे बीमा पॉलिसियां खरीदने, रिन्यूअल प्रीमियम का पेमेंट, लोन के लिए आवेदन करना, लोन और ब्याज का रिपेमेंट करना, पता में परिवर्तन, पैन का विवरण अपडेट करने जैसी सुविधाएं ऑन लाइन की जा सकती हैं

  • दावे की प्रक्रियाओं को आसान और परेशानी मुक्त बनाने के लिए छूट दी गई है
  • अगले हफ्ते से एलआईसी हफ्ते में दो दिन शनिवार और रविवार बंद रहेगी

गर किसी की मौत हो जाती है तो उसके बीमे की रकम पाने के लिए अब उसके वारिस को ज्यादा भागदौड़ नहीं करनी होगी। अगर महानगर पालिका का मृत्यु प्रमाणपत्र नहीं है तो भी आपको दावे की रकम मिल जाएगी। एलआईसी ने इस तरह की सुविधा शुरू की है।

महामारी में ग्राहकों की सुरक्षा पर फोकस

एलआईसी ने शुक्रवार को इस संबंध में विस्तार से जानकारी दी है। इसने कहा कि महामारी के मद्देनजर अपने ग्राहकों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए दावे की प्रक्रियाओं को आसान और परेशानी मुक्त बनाने के लिए छूट दी गई है। अगर किसी की अस्पताल में मृत्यु हो जाती है तो म्युनिसिपल डेथ सर्टिफिकेट के बजाय एलआईसी उनके दावों के ताबड़तोड़ सेटलमेंट के लिए अब कुछ अन्य मृत्यु सर्टिफिकेट को भी स्वीकार करेगी।

क्लेम के लिए ये सर्टिफिकेट होंगे मान्य

इन सर्टिफिकेट में सरकार/ईएसआई/सशस्त्र बलों/कॉर्पोरेट अस्पतालों द्वारा जारी मृत्यु प्रमाण पत्र स्वीकार किए जाएंगे। डिस्चार्ज समरी, डेथ समरी जिसमें मृत्यु की स्पष्ट तिथि और समय उल्लिखित हो वह भी स्वीकार होगा, बशर्ते उस पर एलआईसी के क्लास 1 अधिकारी या 10 वर्षों से काम कर रहे डेवलपमेंट ऑफिसर्स का साइन हो। अन्य मामलों में महानगर पालिका के मृत्यु प्रमाण पत्र की आवश्यकता पहले की तरह होगी।

इसी तरह एन्युटी के लिए जीवन प्रमाण पत्र की तारीख के लिए 31 अक्टूबर 2021 तक छूट दे दी गई है। इसके अलावा अन्य मामलों में ईमेल के माध्यम से भेजे गए जीवन प्रमाण पत्र स्वीकार किये जायेंगे। एलआईसी ने वीडियो कॉल प्रोसेस के जरिए लाइफ सर्टिफिकेट प्रोक्योरमेंट भी शुरू की है।

दस्तावेज कहीं भी जमा कर सकते हैं

सर्विसिंग शाखा में क्लेम सेटलमेंट के लिए आवश्यक दस्तावेज जमा करने में भी छूट एलआईसी ने दी है। एलआईसी ने कहा है कि पॉलिसीधारकों की कठिनाइयों को दूर करने के लिए ड्यू मैच्योरिटी/सर्वाइवल बेनिफिट दावों के लिए किसी भी पास के एलआईसी कार्यालय में दस्तावेज जमा किया जा सकता है। दावों के तुरंत निपटान के लिए इसने ग्राहकों के लिए ऑनलाइन एनईएफटी की भी सुविधा उपलब्ध कराई है।

हफ्ते में केवल 5 दिन खुली रहेगी एलआईसी

एलआईसी अगले हफ्ते यानी सोमवार से अब हफ्ते में केवल 5 दिन खुली रहेगी। इसमें सोमवार से शुक्रवार तक सुबह 10 से शाम 5.30 तक ही काम होगा। शनिवार और रविवार अब पूरी तरह से बंद रहेगी। ऑनलाइन सेवाओं जैसे बीमा पॉलिसियां खरीदने, रिन्यूअल प्रीमियम का पेमेंट, लोन के लिए आवेदन करना, लोन और ब्याज का रिपेमेंट करना, पता में परिवर्तन, पैन का विवरण अपडेट करने जैसी सुविधाएं ऑन लाइन की जा सकती हैं।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

अमेजन का द ग्रेट इंडियन फेस्टिवल चार अक्टूबर से

लखनऊ :  विश्व की प्रमुख ई कामर्स कंपनी अमेजन का चार अक्टूबर से शुरू होने …