Monday , July 22 2019
Home / खेल / डि विलियर्स ने तोड़ी चुप्पी, बोले- विश्व कप टीम में चयन के लिए नहीं रखी थी कोई शर्त

डि विलियर्स ने तोड़ी चुप्पी, बोले- विश्व कप टीम में चयन के लिए नहीं रखी थी कोई शर्त

केपटाऊन: क्रिकेट को अलविदा कर चुके दक्षिण अफ्रीका के धुरंधर बल्लेबाज एबी डि विलियर्स ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी वापसी को लेकर चल रहे विवादों पर अंतत: चुप्पी तोड़ी है। डि विलियर्स ने कहा है कि उन्होंने आखिरी समय में स्वयं को वर्ल्ड कप के लिए साउथ अफ्रीकी टीम में शामिल किए जाने की मांग नहीं की थी। एक बयान जारी कर इस दिग्गज खिलाड़ी ने इस पूरे मामले में पहली बार अपना पक्ष रखा है। संन्यास के बाद अपनी पसंद के हिसाब से टूर्नामेंट चुनने के लिए डि विलियर्स को काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था। हालांकि डि विलियर्स ने कहा, ‘मैंने कोई भी मांग नहीं की थी। मैंने बेशक टूर्मामेंट शुरू होने से कुछ समय पहले ही जबर्दस्ती टीम में जगह बनाने की कोशिश नहीं की और न ही मुझे इसकी उम्मीद थी।’ डि विलियर्स ने साउथ अफ्रीका के लिए 114 टेस्ट और 228 वनडे इंटरनेशनल मुकाबले खेले। वर्ल्ड कप के बीच में ही ऐसी खबरें आईं थीं कि 35 वर्षीय इस खिलाड़ी ने वर्ल्ड कप के लिए टीम चुने जाने से एक दिन पहले ही रिटायरमेंट से लौटने और टीम के लिए खेलने की इच्छा जताई थी लेकिन टीम प्रबंधन ने इसे नकार दिया था।

विश्व कप के दौरान मीडिया रिपोर्टों में दावा किया गया कि 35 साल के इस बल्लेबाज ने विश्व कप के लिए टीम चुने जाने से ठीक पहले संन्यास वापस लेने का मन बना लिया था लेकिन टीम प्रबंधन ने उनकी पेशकश नकार दी। विश्व कप में साउथ अफ्रीका की टीम नौ मैचों में सिर्फ तीन जीत दर्ज कर सकी और टूर्नामेंट से बाहर हो गयी। उन्होंने कहा, ‘संन्यास के कई महीनों तक क्रिकेट साउथ अफ्रीका और उनके बीच कोई भी संपर्क नहीं रहा। मैंने उनसे कभी संपर्क नहीं किया और उन्होंने भी कभी मुझसे संपर्क नहीं किया। मैंने अपना फैसला किया और उसी के साथ आगे बढ़ा। मैंने कोच ओटिस गिब्सन और कप्तान फाफ डु प्लेसिस के शानदार नेतृत्व में खेलने का लुत्फ उठाया।’ डि विलियर्स ने हालांकि कप्तान डु प्लेसिस से चैट संदेश में कहा था कि अगर टीम को उनकी जरूरत हुई तो वह चयन के लिए उपलब्ध रहेंगे। उन्होंने कहा, ‘फाफ (डुप्लेसिस) और मैं स्कूल के दिनों से दोस्त है। विश्व कप के लिए टीम के चुने जाने से दो दिन पहले मैंने उनसे चैट के जरिए संपर्क किया। आईपीएल में मैं अच्छी फॉर्म में था और मैंने अनौपचारिक तौर पर उनसे वही बात पूछा जो मुझे एक साल पहले कहा गया था, कि अगर जरूरत हुई तो मैं चयन के लिए उपलब्ध हूं।’

डि विलियर्स इस बात को लेकर दुखी है कि विश्व कप में भारत से मिली हार के बाद कप्तान के साथ उनकी निजी बातचीत मीडिया में लीक कर दी गई। उन्होंने कहा, ‘भारत से हार के बाद अचानक से मेरी बातचीत लीक कर दी गई और उसमें मुझे गलत तरीके से पेश किया गया।’ डि विलियर्स ने कहा, ‘मेरी तरफ या मुझसे जुड़े लोगों ने कुछ भी लीक नहीं किया गया, ना ही फाफ (डुप्लेसिस) की तरफ से। शायद कोई आलोचना को दूसरी तरफ मोड़ना चाहता था। मुझे नहीं पता। मुझे गलत तरीके से घमंडी, स्वार्थी और अभद्र बताया गया लेकिन विनम्रता से कहना चाहूंगा की भावना बिल्कुल साफ है।’

Loading...

Check Also

इंडीज दौरे के लिए टीम इंडिया का चयन आज, ये 3 हो सकते हैं धोनी का विकल्प

वेस्टइंडीज दौरे के लिए एमएसके प्रसाद की अध्यक्षता वाली सेलेक्शन कमेटी आज टीम इंडिया का ...