ट्विटर पर 1 मार्च से 100 रुपये लीटर बिकेगा दूध कर रहा है ट्रेंड, जानिए सच है या झूठ

नई दिल्ली/सोनीपत। लगातार पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस सिलेंडर कि कीमतों में तो वृद्धि हो रही है जिससे आम जनता का बजट बिगड़ गया है। क्या आगामी 1 मार्च से दूध भी 100 रुपये प्रति लीटर बिकेगा? शनिवार सुबह से ट्विटर पर 1 मार्च से 100 रुपये प्रति लीटर दूध बिकने की बात लगातार ट्रेंड कर रहा है। आप भी जानना चाह रहे होंगे कि आखिर क्या है ट्विटर पर इसके ट्रेंड करने कारण? हम आपको बताते हैं इसके पीछे क्या है सच्चाई।

 

असल में, दिल्ली-हरियाणा के सिंघु बॉर्डर पर किसानों का धरना-प्रदर्शन चल रहा है। भारतीय किसान यूनियन के अंबाला जिला प्रधान मलकीत सिंह भी इस धरना-प्रदर्शन में शामिल हुए। उन्होंने कहा था कि एक मार्च से देशभर के किसान दूध की कीमतों में 50 रुपये का इजाफा करने जा रहे हैं। दूध के दामों में 50 रुपये की वृद्धि करने के बाद फिलहाल 50 रुपये लीटर बिकने वाला दूध 1 मार्च से 100 रुपये लीटर बेचा जाएगा।

 

मलकीत सिंह ने यह भी कहा था कि केंद्र सरकार ने डीजल की कीमतों में इजाफा करके किसानों को चारों ओर से घेरने का प्रयास किया है। ऐसे में संयुक्त किसान मोर्चा ने अब दूध की कीमतों में 50 रुपये की बढ़ोतरी करने का निर्णय लिया है। यदि केंद्र सरकार ने तीनों कृषि कानूनों को रद करने की मांग नहीं मानी तो आगामी दिनों में आंदोलन को शांतिपूर्वक आगे बढ़ाते हुए हम सब्जियों की कीमतों में भी बढ़ोतरी करेंगे। इसी के बाद से ही 1 मार्च से दूध की कीमत 100 रुपये होने को लेकर ट्विटर पर ट्रेड हो रहा है। जब इस बात की पुष्टि के लिए फोन के किया तो संयुक्‍त किसान मोर्चा की ओर से इस पूरे मसले पर ऑफिसियल रूप से कुछ नहीं कहा गया है।

आपको बता दें कि तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों को रद करने की मांग को लेकर दिल्ली-एनसीआर के सिंघु, टीकरी, शाहजहांपुर और गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों का धरना-प्रदर्शन पिछले तीन महीने से लगातार जारी है। साथ ही तीनों कृषि कानूनों को रद करने से कम कोई शर्त किसान मानने के लिए तैयार ही नहीं हैं।

Check Also

MP में ऐतिहासिक ऊंचाई पर Petrol के भाव, कीमत 120 रुपयों के पार

भोपाल: मध्यप्रदेश में पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है. एक महीने के अंदर ही …