टैम्पो पलटने से 12 घायल, मीठड़ी अस्पताल में नहीं मिला कोई स्टाफ, नावां में कराया इलाज

 

  • मायरा भरने मकराना से मारोठ जा रहे थे एक ही परिवार के 20 सदस्य

कस्बे में रविवार शाम को बाईपास हाईवे पर सुखाराम बारुपाल के आवासीय मकान के पास शाम चार बजे के लगभग टायर फटने से टैम्पो असंतुलित होकर पलट गया। मकराना के टैम्पो चालक सदीक ने बताया कि वह मकराना से रवाना होकर मारोठ अपने रिश्तेदारों के यहां मायरा भरने जा रहे थे। जबकि विवाह 12 अक्टूबर का है। टैम्पो में छोटे बड़े लगभग 20 यात्री एक ही परिवार के बताए जा रहे हैं।

टैम्पो में सवार लगभग बीस यात्रियों में 12 जनों के पैर, सिर, हाथ आदि जगहों पर चोटें लगी। एक गर्भवती महिला भी घायल हो गई। घटना की जानकारी मिलने पर कस्बे के ग्रामीण व वाहन चालकों ने घायलों को तुरंत उपचार के लिए मीठड़ी के राजकीय चिकित्सालय पहुंचाया, जहां पर मौके पर कोई भी स्टाफ मौजूद नहीं था जो दुर्घटना में घायलों का प्राथमिक उपचार भी कर सके।

जबकि डॉ. को फोन करने पर रिसीव भी नहीं किया। इस अव्यवस्था से ग्रामीणों ने आक्रोश प्रकट करते हुए कहा कि कस्बे में लगभग 7-8 हजार की आबादी है मगर स्वास्थ्य सेवाएं अच्छी नहीं है। सभी घायलों का उपचार नावां के सरकारी अस्पताल में किया गया।
डॉ. बोले- स्टाफ की कमी
मीठडी अस्पताल के डॉ. योगेश कुमार शुक्ल ने बताया कि हमारे यहां स्टाफ की कमी है। दुर्घटना के वक्त मैं कांसेडा में कोरोना पेसेंट को संभालने गया हुआ था। जबकि आज रविवार होने की वजह से स्टाफ नहीं था। वही कई स्टाफ को कोविड में कुचामन तो कई स्टाफ के तबादले होने के बाद अस्पताल में स्टाफ की काफी कमी है।

 

Check Also

जयपुर के होटल में यूपी के कारोबारी से 10 लाख रुपए की रिश्वत लेते पुलिस कांस्टेबल गिरफ्तार, थानाप्रभारी फरार

जयपुर में टोंक रोड पर होटल रेडिसन ब्लू में 10 लाख रुपए की रिश्वत लेते …