जानिए रेलवे ट्रैक पर लगे इन बोर्ड्स का मतलब…सारे कन्फयूजन मिट जाएंगे

हर किसी को ट्रेन का सफर तो बेहद खूबसूरत लगता ही होगा, खासतौर पर जब हम कहीं दूर जाने वाले हों. आपने भी ट्रेन में सफर तो किया ही होगा. अक्सर व्यक्ति ट्रेन में लंबा समय व्यतीत करता है. खैर ट्रेन का सफर लंबा हो या छोटा इससे फर्क नहीं पड़ता. अक्सर आपने ट्रेफिक नियमों के बार में सुना होगा. दो पहिया, चार पहिया वाहनों के नियमों के बारे में सुना होगा. मगर ट्रेन के भी कुछ नियम होते हैं जो ट्रेन के ड्राइवर को निभाने पड़ते हैं. ट्रेन में सफर करते करते क्या कभी आपने साइड में रेलवे ट्रैक पर आने वाले बोर्ड्स पर ध्यान दिया है. ये बोर्ड किसी नियम की तरफ इशारा करते हैं. चलिए आज आपको इन्हीं रेलवे ट्रैक के बोर्ड के नियमों और संकतों के बारे में बताते हैं.

इन पीले रंग के बोर्ड्स पर अलग अलग जानकारियां लिखी होती हैं. जो कि कोड वर्ड में होने की वजह से किसी को ठीक से समझ नहीं आती… ऐसे में हम इन नियमों से अंजान ही रह जाते हैं. मगर आज आपको इनकी पहचान करवा देते हैं ताकि अगली बार जब बी आप अपने ट्रेन के खूबसूरत सफर पर जाएं तो बाहर के नजारे देखते हुए नियमों को भी समझ पाए.

1) C/T (Caution Order for Tunnel)

सफ़र के दौरान रेलवे ट्रैक पर एक गोलाकार पीले बोर्ड पर लिखा हुआ यह C/T कई बार आपको कई बार नज़र आया होगा. आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि यह बोर्ड किसी भी सुरंग के पहले लगा होता है. इस बोर्ड की वजह से ड्राइवर को पहले ही संकेत मिल जाता है कि आगे कुछ देर में सुरंग आने वाली है. और वह सावधान हो जाता है.

2) W/L (Whistle Indicators)

आपने कभी गौर किया हो तो एक वर्ग आकार के पीले बोर्ड पर लिखा हुआ यह W/L कई बार आपको नज़र आया होगा लेकिन यह कोड सभी की समझ से परे रहता है। आपको बता दें, हिंदी में यह बोर्ड पर सी/फा लिखा हुआ नज़र आता है। इसका अर्थ होता है ‘see/pha’ यानि ‘seetee bajao – phatak’) होता है। यह बोर्ड क्रॉसिंग लेवल के 250 मी. की दूरी पर होता है.

3) W/B (Whistle Bridge)

अक्सर रेलवे ट्रैक यह बोर्ड ब्रिज पर लगा होता है. इस बोर्ड को देखकर ड्राइवर अनुमान लगाता है कि अब ब्रिज आने वाला है और सावधान हो जाता है.

4) T/P, T/G Termination Indicators

यह एक गोलाकार पीले कलर का बोर्ड होता है. ध्यान रहें, यह बोर्ड गति क्षेत्र के समापन का चिन्ह होता है। ख़बरों के अनुसार पैसेंजर ट्रेन, माल गाडियों तथा बॉक्सन वेगन राक के साथ माल गाड़ियों के लिए यह बोर्ड होते है.

5) स्पीड लिमिट

यह नीला बोर्ड स्पीड के लिए होता है। जी हाँ! यह स्पेशल ट्रेन जैसे राजधानी या शताब्दी जैसे ट्रेनों के लिए होता है. रेलवे ट्रैक पर लगा यह बोर्ड ट्रेन ड्राईवर को स्पीड दर्शाता है.

Check Also

DSSSB Recruitment 2021: दिल्ली में 7250 पदों पर निकली सरकारी नौकरी, जल्द करें Apply

दिल्ली:  सरकारी नौकरी का सपना देख रहे युवाओं के लिए अच्छी खबर है. दिल्ली में सरकारी …