जयपुर में शहीद दाताराम को अंतिम विदाई:सैन्य सम्मान के साथ हुआ दाह संस्कार, शवयात्रा में उमड़े हजारों लोग, 28 जनवरी को ही छुटि्टयां बिताकर ड्यूटी पर लौटे थे

जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा सेक्टर में शहीद दाताराम जाट की देह को सैन्य सम्मान के साथ जयपुर में अंतिम विदाई दी गई। रविवार को जयपुर के निवारु में शहीद दाताराम के घर से उनका शवयात्रा रवाना हुई। जिसमें हजारों की संख्या में स्थानीय लोग शामिल हुए। वे फूलों से सुसज्जित एक ट्रक में रखी पार्थिव देह के पीछे पैदल और वाहनों के काफिले के साथ शहीद दाताराम अमर रहे और जय जयकार करते चल रहे थे। इसके बाद निवारु स्थित मोक्षधाम पर अंतिम संस्कार किया गया। शव यात्रा के दौरान सुबह करीब 9 से 12 बजे के बीच निवारु रोड के बाजार भी शहादत को सम्मान देने के लिए बंद रखे गए।

कुपवाड़ा में शहीद दाताराम जाट

कुपवाड़ा में शहीद दाताराम जाट

45 वर्षीय शहीद दाताराम मूल रुप से राजस्थान में भरतपुर जिले के पीराका गांव के रहने वाले थे। वे भारतीय सेना में राजपूताना राइफल्स में यूनिट 3 में हवलदार थे। पिछले करीब आठ वर्षों से जयपुर में निवारु रोड पर शिवम विहार चतुर्थ कॉलोनी में पत्नी व बच्चों के साथ रह रहे थे। कुपवाड़ा में एलओसी के पास आतंकी गतिविधियों के खिलाफ सैन्य ऑपरेशन के दौरान 19 फरवरी को दाताराम के शहीद होने की खबर आई थी। इसके बाद शनिवार को दाताराम की पार्थिव देह श्रीनगर से हवाई मार्ग से दिल्ली पहुंची। इसके बाद सड़क मार्ग से उनको घर लाया गया। यहा कोहराम मच गया।

जयपुर में हजारों की संख्या में लोग शहीद दाताराम जाट की शव यात्रा में उमड़े

जयपुर में हजारों की संख्या में लोग शहीद दाताराम जाट की शव यात्रा में उमड़े

28 जनवरी को ही छुटि्टयां पूरी कर ड्यूटी पर लौटे थे, दो दिन पहले हुई थी परिजनों से बात

जानकारी में सामने आया कि दाताराम गत 28 जनवरी को ही छुटि्टयां बीताकर जम्मू कश्मीर में ड्यूटी पर लौटे थे। दाताराम के साथी ओमप्रताप सिंह राजावत ने बताया कि दाताराम पिछले करीब 24 वर्षों से भारतीय सेना में थे। इनमें करीब 17 वर्ष दाताराम जम्मू कश्मीर में ही सेवाएं दी थी। उत्कृष्ट कार्यों और अच्छी छवि की वजह से दाताराम जाट को यूएन मिशन में विदेश जाने का मौका मिला था। दाताराम का शव देखकर पत्नी पिंकी देवी, बड़ी बेटी ज्योति, छोटी बेटी सिमरन, बेटा शिवा फौजदार भी बिलख पड़े।

 

Check Also

पंजाब विधान सभा बजट सत्र में किसान आंदोलन में दिवंगत हुए किसानों को श्र्द्धांजलि दी जाएगी

चंडीगढ़ : प्रथम मार्च से शुरू हो रहे पंजाब विधान सभा के बजट सत्र में …