जम्मू-कश्मीर: ऑनलाइन धोखाधड़ी में फेसबुक इंडिया के खिलाफ FIR दर्ज, हाईकोर्ट ने दिया आदेश

जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट ने ऑनलाइन धोखाधड़ी के मामले में फेसबुक इंडिया के प्रमुख और कई अन्य आरोपियों के खिलाफ FIR दर्ज कर जांच के निर्देश दिए हैं. जम्मू निवासी विवेक सागर ने धोखाधड़ी की याचिका दायर की थी. याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति धीरज सिंह ठाकुर ने साइबर सेल पुलिस को मामले की जांच करने के निर्देश दिए हैं.

याचिकाकर्ता विवेक सागर ने अपनी याचिका में कहा कि फेसबुक पर जारी एक विज्ञापन के माध्यम से उसके साथ बीस हजार सात सौ रुपये की धोखाधड़ी हुई है. धोखाधड़ी के लिए इंटरनेट और एसएमएस का भी उपयोग किया गया. याची ने इस बारे में साइबर सेल पुलिस से भी संपर्क किया गया, परंतु कोई कार्रवाई नहीं हुई. याचिका में फेसबुक, बजाज फाइनेंस,क्वाड्रेंट  टेलिवेंचर्स के प्रमुख और अन्य लोगों को आरोपी बनाया गया है. उसके साथ 20 हजार 700 रुपये की धोखाधड़ी की गई.

साइबर पुलिस ने नहीं लिया कोई फैसला

हाईकोर्ट में याचिकाकर्ता के वकील दीपक शर्मा ने बताया कि क्योंकि साइबर पुलिस ने उनके मुवक्किल की शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं की. इसलिए उन्होंने धारा 156(तीन) सीआरपीसी के तहत स्थानीय अदालत के फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया और एफ आईआर दर्ज करने के लिए निर्देश देने की मांग की थी. पीड़ित ने कहा उसके साथ जिस तरह की धोखाधड़ी हुई है उसे देखते हुए आईपीसी और आईटी एक्ट, 2000 का मामला बनता है.इसके साथ ही पीड़ित ने धोखाधड़ी में शामिल आरोपियों के खिलाफ 156(3) सीआरपीसी के तहत एफआईआर दर्ज करने की मांग की.

पीड़ित की याचिका पर सुनवाई करते हुए स्‍थानीय कोर्ट ने एफआईआर दर्ज करने का अंतिम फैसला पुलिस अधिकारियों पर छोड़ दिया. अब पीड़ित ने स्थानीय कोर्ट के इस आदेश को हाई कोर्ट में चुनौती दी है. इस मामले में अब जम्मू-कश्मीर हाई कोर्ट ने फेसबुक इंडिया हेड और अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए हैं.

Check Also

बीजापुर:ऑपरेशन से पहले मरीज का कोरोना का टेस्ट पॉजिटिव

बीजापुर/जगदलपुर : जिले में कोरोना का कोई मामला नही था,लेकिन एक मामला तब सामने आया …